नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Steelbird देश की पहली हैलमेट कंपनी है जिसे हैलमेट्स पर वाईजर्स बनाने का ISI लाइसेंस प्राप्त हुआ है। तुरन्त प्रभाव से सभी हेल्मेट्स में उपयोग में लाए जाने वाले वाइजर्स ISI प्रमाणित होंगें। Steelbird के प्रबंध निदेशक राजीव कपूर ने इस पर टिप्पणी करते हुये कहा कि मूलतः दो प्रकार के हैलमेट्स होते हैं - ISI और नॉन ISI, वाईजर्स पर भी यही लागू होता है। IS: 9973 के मुताबिक स्टीलबर्ड नॉन ISI वाईजर्स का निर्माण नहीं करेगा।

कपूर ने बताया कि हेल्मेट वाईजर एक आवश्यक उपकरण है जो सड़क पर स्पष्ट दर्शाता दिखाता है परन्तु आमतौर पर कम गुणवत्ता वाले हेलमेट में वाईजर्स के नियमित उपायोग के दौरान खरोंच मिलती है, जिससे की दृश्य में बाधा उत्पन्न होती है। इस प्रकार स्टीलबर्ड पॉली कार्बोनेट को एंटी स्क्रैच कोटिंग के साथ प्रदान करता है जो कि अधिक टिकाउ होते हैं और अधिक सुरक्षा प्रदान करते हैं।

राईडर्स की सुरक्षा चिंताओं को पूरा करने वाले उत्पादों के अनुसंधान, विकास और निर्माण के लिए समर्पित, स्टीलबर्ड ने पहले ही इस दिशा में एक कदम उठाया है। इन उत्पादों पर ओडिट किया गया है और स्टीलबर्ड को अब आईएसआई प्रमाणपत्रों के तहत हेलमेट और वाईजर्स बनाने के लिये प्रमाणित किया गया है।

सरकार और मंत्रालय, सड़क सुरक्षा की दिशा मे बहुत प्रयास कर रही है। हमारे देश में सड़क सुरक्ष्ज्ञा एक बहुत ही महत्वपूर्ण चिंता का विषय बन गया है क्योंकि इतनी सारी मौंतें हो रहीं है और सरकार मानव जीवन को बचाने में प्रयत्नशील है। स्टीलबर्ड का मुख्य उद्देश्य हेलमेट की पेशकश करना है जो सुरक्षा को अगले स्तर तक ले जाता है।

Posted By: Ankit Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस