नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। कोरोनावायरस महामारी के चलते 21 दिनों तक राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन किया गया है। वर्तमान स्थिति में एप-आधारित टैक्सी एग्रीगेटर Ola को भी अस्थायी रूप से सर्विसेज को रोकने के लिए मजबूर कर दिया है, क्योंकि देश ने इस वायरस के संक्रमण को तेजी से फैलने के लिए कड़ी मेहनत की है। कैब सेवाओं को बंद करने के बाद अब Ola ने अपने सभी लीज वाले कैब ड्राइवरों को वापस बुला लिया है। कंपनी ने हाल ही में यह घोषणा की थी कि वह एप-आधारित कैब सर्विसेज कंपनी कैब लीज पर देने वाले 30,000 से अधिक ड्राइवरों के लिए दैनिक लीज चार्ज को माफ कर देगी।

Ola फ्लीट टेक्नोलॉजीज, जो कि Ola के स्वामित्व वाली कंपनी है ने देशभर में अपने ड्राइवर-पार्टनर्स को कैब लीज पर दी है। इस लीजिंग प्रोग्राम के तहत ड्राइवर-पार्टनर्स 4000 रुपये का नॉन-रिफंडेबल कीमत देते थे और वाहन के लिए 21,000-31,000 रुपये जमा कराते थे, जो कि रिफंडेबल है। रोजाना का इसका किराया 700 से 1,150 रुपये के बीच होता था, जो कि कार मॉडल और शहर पर निर्भर करता था।

Ola के एक प्रवक्ता ने कहा, "हम पुष्टि कर सकते हैं कि हम पूरी तरह से लीज रेंटल्स को छूट दे सकते हैं जो कि EMI के समान है। जो Ola की सहायक कंपनी Ola फ्लीट टेक्नोलॉजीज के स्वामित्व वाले वाहनों को अपने लीजिंग प्रोगाम के तहत चलाते हैं उन ड्राइवर को छूट दे रहे हैं। ड्राइवर पार्टनर्स जो वर्तमान में Covid-19 के चलते अस्थायी लॉकडाउन के कारण संकट में है, ऐसे समय में कम आर्थिक बोझ के साथ लाभ के लिए खेड़े रहेंगे। इसके अलावा कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण ड्राइवरों और उनके जीवनसाथी को होने घाटे के चलते हम देशभर में अपने ड्राइवर पार्टनर्स को चिकित्सा के लिए इंश्योरेंस और मेडिकल सपोर्ट प्रदान करते रहेंगे।"

इसके साथ ड्राइवर-पार्टनर्स के परिवार वाले जो कोरोनावायरस के संक्रमित हैं, उन्हें एक क्षतिपूर्ति पैकेज के साथ प्रति दिन 1,000 रुपये की आय को कवर करने की भी घोषणा की गई थी। यह अधिकतम 3 हफ्ते के लिए वैध होगा। प्रभावित ड्राइवर-पार्टनर्स और उनके परिवार भी ऑनलाइन डॉक्टर परामर्श के लिए Ola ने Mfine से सहायता ले सकते हैं। ये सभी लाभ भारत में Ola Auto, Ola Bike, Ola Rentals और आउटस्टेशन सहित सभी क्लास के सभी Ola ड्राइवर-पार्टनर्स के लिए उपलब्ध हैं।

Posted By: Ankit Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस