नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। आपने देखा होगा कि कई बार कार एक्सीडेंट के दौरान एयरबैग खुलने के बावजूद भी ड्राइवर को काफी चोट लग जाती हैं। ये चोटें कई बार गंभीर हो सकती हैं। दरअसल एयरबैग ड्राइवर के सिर वाले हिस्से की सुरक्षा करता है लेकिन आपको कई और बातों का ख्याल भी रखना पड़ता है नहीं तो कार चलाते समय एयरबैग खुलने के बावजूद आपको चोट लग सकती है। आज हम आपको उन्हीं गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे बचकर आप अपने आप को सुरक्षित रख सकते हैं।

सीट बेल्ट: सीट बेल्ट जितनी आम दिखती है ये उतनी ही ज्यादा जरूरी होती है। दरअसल सीटबेल्ट ड्राइवर को अपनी सीट पर सही पोजीशन में रखने में मदद करती है लेकिन आपने अगर इसे नहीं पहना है या पहनना भूल गए हैं तो एक्सीडेंट के दौरान जब एयरबैग खुलता है उस दौरान आपका सिर एयरबैग की जगह डैशबोर्ड या विंड शील्ड पर जाकर टकरा सकता है जिससे आपके सिर पर गंभीर चोट लग सकती है। सीटबेल्ट आपकी पोजीशन को बरकरार रखने के लिए बेहद जरूरी है।

डैशबोर्ड एक्सेसरीज: लोग सजावट के तौर पर कई बार नुकीली या मेटल की बनी हुई एक्सेसरीज को अपनी कार के डैशबोर्ड पर लगाते हैं लेकिन एक्सीडेंट के दौरान आपका सर इनसे टकरा सकता है। दरअसल एक्सीडेंट की इम्पैक्ट इतना ज्यादा होता है कि आप सीधा डैशबोर्ड पर भी टकरा सकते हैं। इसलिए आपको डैशबोर्ड एक्सेसरीज को लगाने से बचना चाहिए।

सीटिंग पोजीशन: सीटिंग पोजीशन एक्सीडेंट के दौरान आपको सुरक्षित रखने में अहम भूमिका निभाती है। अगर सीटिंग पोजीशन का ऐंगल ज्यादा होता है तो ये आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे में आपको कम्फर्ट के चक्कर में सीटिंग पोजीशन से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए।

नेक पिलो: ड्राइविंग करते समय ज्यादा हैवी नेक पिलो से बचना चाहिए। एक्सीडेंट के दौरान इस पिलो की वजह से गर्दन में गंभीर चोट लग सकती है।  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021