नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। BMW इंडिया ने घोषणा की है कि वह अपने मॉडल रेंज की कीमतें जनवरी 2019 से 4 फीसद तक बढ़ा देगी। कीमतों में वृद्धि चक्रीय संशोंधन के चलते हो सकती है जो विभिन्न लागत-आर्थिक कारकों जैसे कि इनपुट लागत में वृद्धि, या ईंधन की कीमतों में वृद्धि के कारण माल ढुलाई में वृद्धि होती है। हालांकि, BMW इंडिया ने इस तरह के किसी भी कारण का हवाला नहीं दिया है।

जानकारी के अनुसार, कीमतों में वृद्धि केवल BMW और मिनी कारों तक ही सीमित है जो पूरे भारत में BMW के 44 डीलरशिप्स के माध्यम से बेची जाती हैं। हालांकि, इस सूचना में BMW मोटोर्राड के बारे में कुछ भी उल्लेख नहीं किया गया।

इस निर्णय के बारे में बोलते हुए BMW ग्रुप इंडिया के चेयरमैन, विक्रम पावाह ने कहा, "BMW इंडिया लग्जरी कार बाजार में सबसे आगे है, जो अपने आकाक्षापूर्ण प्रोडक्ट्स और ग्राहक केंद्रितता के बेजोड़ स्तरों के माध्यम से 'शीयर ड्राइविंग खुशी' की पेशकश करता है। 1 जनवरी 2019 से BMW इंडिया अपनी कारों की कीमतों में 4 फीसद तक बढ़ोतरी कर देगी। BMW इंडिया अपने BMW इंडिया फाइनेंशियल सर्विसेज से अपने अग्रणी उत्पादों, बेस्ट-इन-क्लास सर्विस अनुभव और व्यापक वित्तीय समाधान और ऑफर के माध्यम से अपने ग्राहकों को बेहद आकर्षक मूल्य पेश करना जारी रखेगा।"

BMW इंडिया रेंज में जो स्थानीय रूप से कारें निर्मित होती हैं, उनमें BMW 3 सीरीज, BMW 3 सीरीज ग्रान टूरिज्मो, BMW 5 सीरीज, BMW 6 सीरीज ग्रान टूरिज्मो, BMW 7 सीरीज, BMW X1, BMW X3, BMW X5 और मिनी कंट्रीमैन है। इसके अलावा BMW X6 SUV, Z4 कन्विर्टिबल, M2 कॉम्पिटीशन, M3 सेडान, M4 कूपे, M5 सेडान, X5 M SUV, X6 M SUV और i8 की भी बिक्री करती है, जो कि देश में कंप्लीट्ली बिल्ट-अप यूनिट (CBU) रूट के जरिए बेची जाती है। 

Posted By: Ankit Dubey