नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। हाल ही में मध्य प्रदेश की एक 90 वर्षीय महिला ने अपने ड्राइविंग कौशल से सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया है। इंटनरेट पर एक पुरानी मारुति 800 हैचबैक के पहियों पर साड़ी में लिपटी महिला का एक वीडियो वायरल हो गया है। जिसने ना सिर्फ यूजर्स बल्कि राज्य के मुख्यमंत्री का ध्यान भी आकर्षित किया। बता दें, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्विटर पर वीडियो साझा करते हुए कहा, 'दादी मां ने हम सब को प्रेरणा दी है, की अपनी अभीरुचि पूरी करने में उमर का कोई बंधन नहीं होता है। उमर चार कितनी भी हो, जीवन जीने का जज्‍बा होना चाहिए!'

दादी मां ने हम सभी को प्रेरणा दी है कि अपनी अभिरुचि पूरी करने में उम्र का कोई बंधन नहीं होता है।

उम्र चाहे कितनी भी हो, जीवन जीने का जज़्बा होना चाहिए!

उन्होंने आगे लिखा कि 'दादी' ने हम सभी को दिखाया है कि उम्र आपको अपने जीवन की इच्छाओं को पूरा करने से नहीं रोक सकती है। उम्र सिर्फ एक संख्या है, आपको अपना जीवन जीने के लिए जुनून की जरूरत है। जानकारी के लिए बता दें, रेशम बाई तंवर देवास जिले के बिलावली क्षेत्र की रहने वाली हैं। उन्होंने बताया कि कार चलाना सीखने के पीछे वजह यह है, कि उनकी बेटी और बहू सहित उसके परिवार के सभी सदस्य ड्राइव करना जानते थे। साथ ही इन्होंनें बताया कि मुझे ड्राइविंग बहुत पसंद है। मेरे पास कारों के साथ साथ ट्रैक्टर भी हैं।"

 लोगो ने ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर उठाए सवाल

वीडियो को ट्विटर पर कई उपयोगकर्ताओं द्वारा साझा किया गया और पसंद भी किया गया, जिसमें उनके ड्राइविंग कौशल की प्रशंसा की गई। हालांकि, कई लोगों ने यह सवाल भी उठाया कि क्या उसके पास इस तरह खुली सड़क पर कार चलाने के लिए वैध ड्राइविंग लाइसेंस है। मध्य प्रदेश के परिवहन विभाग के अनुसार, स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस 20 वर्ष या 50 वर्ष की आयु तक जो भी पहले हो, के लिए जारी किया जाता है। वहीं कमर्शियल वाहन के लिए जारी स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस को तीन साल के लिए रिन्यू कराने की आवश्यकता होती है।

 

Edited By: Bhavana