नई दिल्ली, अनिर्बान मित्रा। दिसंबर की सर्दी उत्तर में ढलती हुई और हवा में हल्की सी ठंडक, मैंने रविवार सुबह की फुरसत छोड़ एक क्रूजर चलने का फैसला किया। मेरी नजर इंडियन मोटरसाइकिल्स की तरफ गई। इस अमेरिकी ब्रांड की बाइक्स दुनिया भर में क्रोम, V-twin इंजन और उत्साही लॉन्ग-डिस्टेंस राइडर्स के लिए प्रसिद्ध है। आज आपको शेयर करने जा रहे हैं अपना सिंगल सीटर क्रूजर बाइक Chief Dark Horse का दिल्ली-जयपुर हाइवे पर राइडिंग एक्सपिरिएंस, जिसके बाद आपका भी मन इस बाइक की सवारी करने पर जाएगा।

YT Link: https://www.youtube.com/watch?v=vta15weMyZs

100 साल पूरे होने का जश्न मनाते हुए, इंडियन मोटरसाइकिल्स ने डार्क हॉर्स, बॉबर डार्क हॉर्स और सुपर चीफ के चीफ लाइनअप को लॉन्च किया था। कीमतें 20.75 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) से शुरू होती हैं, और तीनों मोटरसाइकिलों में एक ही इंजन और साइकिल के पुर्जे होते हैं।

मैं डार्क हॉर्स को लेके निकल पड़ा। अतिरिक्त लंबा व्हीलबेस, लो स्लंग प्रोफाइल और मेरे पैरों के बीच एक विशाल 1,890-सीसी का वी-ट्विन इंजन, मैं इस बात से इनकार नहीं कर सकता कि मुझे इस मोटरसाइकिल के आदत पड़ने में थोड़ा वक़्त लगा, क्योकिं इस तरह की बाइक चलाने का ये मेरा अनुभव थोड़ा नया था।

इंजन

इंडियन मोटरसाइकिल ने 2022 चीफ सीरीज में नया इंजन लगाया है। ये इंजन आकार में पहले से 77-cc बड़ा है और 162 Nm का पीक टॉर्क जेनरेट करने में सक्षम है।

मौसम 10 डिग्री था और टंडर स्ट्रोक इंजन से निकलने वाली गर्मी आरामदायक महसूस हुई। इंडियन मोटरसाइकिलों में 4 इंच का सर्कुलर इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर उपलब्ध है, जो टच फीडबैक से काम करता हैं।

राइड मोड

इस लग्जरी बाइक में आपको तीन राइड मोड मिलेंगे, जिसमें - स्पोर्ट, स्टैंडर्ड और टूर मोड शामिल हैं। दिल्ली-जयपुर हाईवे पर यात्रा के दौरान मैं काफी हद तक टूर मोड में क्रूज कर रहा था।

जितना अधिक मैं सवार हुआ, प्रारंभिक सावधानी आनंद में बदल रही थी। और साथ ही, मैं उस आसानी को समझ रहा था जिसके लिए राइडर्स ऐसे भारी वजन वाली मोटरसाइकिलों में क्रॉस-कंट्री यात्रा करते हैं।

स्टील वेल्डेड ट्यूब फ्रेम 300 किलो के बॉबर के इंजन भागों को आसानी से पकड़ रखता है। पर हां, ये ज़रूर कहना चाहूंगा की लौ प्रोफाइल की वजह से आपको बड़े स्पीड ब्रेकर्स पे दिक्कत महसूस होगी। 100 किलोमीटर की सवारी के बाद, मैं रुका। हरी-भरी अरावली आलीशान लग रही थी और मनो इंडियन चीड़ बॉबर दृश्य को चार चांद लगा रहा था।

मैं प्रीलोड-एडजस्टेबल रियर शॉक एब्जॉर्बर या पिरेली नाइट ड्रैगन टायरों का परीक्षण नहीं कर सका। या शायद, मैं आज ऐसा करने की सोच भी नहीं रहा था। ये तकनीकी चीजें, मैं और किसी सोमवार के लिए बचाके रखता हूं। अभी के लिए, ब्लैक, क्रोम और हरे-भरे बैकग्राउंड मेरे इंस्टाग्राम के लिए एक शानदार तस्वीर पेश कर रहे हैं।

Edited By: Atul Yadav