नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। इस मौसम में लोग वादियों का लुत्फ उठाने के लिए अपनी गाड़ी से पहाड़ों पर जाने का प्लान बना लेते हैं। लेकिन पहाड़ी इलाकों में ड्राइविंग बहुत ही मुश्किल होती है। अगर आप अपनी गाड़ी से सफर करने का मन बना रहे हैं तो आपको इन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

आप हिल स्टेशन में कार कैसे चलायें?

जब आप अपनी गाड़ी को पहाड़ियों पर चढा रहे हों तो उस वक्त आपको अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। उंचाई के अनुसार अपनी गाड़ी के गियर शिफ्ट करें। ऐसे जगहों पर गाड़ी चलाते समय तीसरे नंबर की गियर बेस्ट मानी जाती है। हालांकि, चालक अपनी सुविधा अनुसार इसको चेंज कर सकते हैं। वहीं अगर आप गाड़ी को ढलान से उतार रहे हैं तो आपको एक्सिलेरेटर को काफी सहजकता से दबाना पड़ेगा। वहीं अंधा मोड़ पर वाहन चाहल को काफी धीरे-धीरे गाड़ी को मोड़ने की हिदायत दी जाती है।

ब्रेक और गियर का सही वक्त पर करें इस्तेमाल

पहाड़ पर एक छोटी सी गलती आपको बड़े जोखिम में डाल सकती है। इसलिए, ड्राइविंग के वक्त आपको गियर और ब्रेक के इस्तेमाल की सही जानकारी होना आवश्यक है। पहाड़ी इलाके के रास्ते खड़े ढलान और खतरनाक मोड़ से भरे होते हैं। इसलिए खड़ी ढलान पर चढ़ते या नीचे उतरते समय ब्रेक का उपयोग कम करें और दूसरे या तीसरे गियर का इस्तेमाल करें। ढलान से उतरते वक्त कभी भी एक दम से ब्रेक न लगाएं, ऐसा करने से पीछे वाली गाड़ी आपकी कार को टक्कर मार सकती है और दुर्घटना घट सकती है। इसलिए बहुत ही सावधानीपूर्वक आपको ब्रेक का इस्तेमाल करना चाहिए।

ड्राइवर को पहाड़ों पर कार चलाते वक्त कई बातों का ध्यान रखना चाहिए। पहाड़ पर गाड़ी चढ़ाते वक्त ओवरटेकिंग बिल्कुल नहीं करना चाहिए।

Edited By: Atul Yadav