PreviousNext

मुख्यमंत्री की कार्यकर्ताओं को नसीहत कानून हाथ में न लें

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 04:50 PM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 06:06 PM (IST)
मुख्यमंत्री की कार्यकर्ताओं को नसीहत कानून हाथ में न लेंमुख्यमंत्री की कार्यकर्ताओं को नसीहत कानून हाथ में न लें
जनता की समस्याओं को जनप्रतिनिधियों व पदाधिकारियों के माध्यम से सरकार तक ले जाएं। उन्होंने साफ कहा कि मर्यादा में रहकर कार्य करें और कानून तो कतई हाथ में नहीं लें।

झांसी (जेएऩएऩ)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल भाजपा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को सत्ता में रहकर कार्य करने के गुर बताए। उन्होंने कहा कि अब कार्यकर्ता विपक्ष में नहीं हैं, जो धरना व प्रदर्शन किया जाए। अब सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाएं और जनता की समस्याओं को जनप्रतिनिधियों व पदाधिकारियों के माध्यम से सरकार तक ले जाएं। उन्होंने साफ कहा कि मर्यादा में रहकर कार्य करें और कानून तो कतई हाथ में नहीं लें।
पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि केंद्र के बाद प्रदेश में भारी बहुमत से भारतीय जनता पार्टी सत्ता में आई है, जिसमें कार्यकर्ताओं की बड़ी भूमिका है। विजयी होने पर दायित्व भी बढ़ जाते हैं। सरकार की योजनाओं को परिवार व जाति से अलग हटकर सर्व समाज तक पहुंचाना है बगैर किसी भेदभाव के साथ। सांसद, विधायकों से अधिक कार्यकर्ता आम जनता के सम्पर्क में रहते हैं, इसीलिए उनकी जिम्मेदारी भी अधिक है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं पर नजर रखें, उनकी निगरानी करें। प्रधानमंत्री व राष्ट्रीय अध्यक्ष की सर्वोच्च प्राथमिकता में बुंदेलखंड है, इसीलिए कार्यकर्ता भी अपनी भूमिका निभाएं। ख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को मर्यादा में रहने का पाठ भी पढ़ाया और कहा, कानून को अपना कार्य करने दें। जनता की समस्याओं को जनप्रतिनिधियों व पार्टी पदाधिकारियों के माध्यम से ही सरकार तक पहुंचाएं। अगर कहीं कुछ गलत हो रहा है, तो संबंधित धिकारी को भी फोन कर बता सकते हैं।

अफसर कार्यसंस्कृति में बदलाव लाएं
योगी आदित्यनाथ ने झांसी व चित्रकूट मंडल में विकास कार्यों व योजनाओं की समीक्षा करते हुए अफसरों को कार्य संस्कृति में बदलाव लाने की सीधी चेतावनी दी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सम्पूर्ण बुंदेलखंड में पेयजल समस्या किसी भी दशा में नहीं होनी चाहिए। पेयजल परियोजनाएं निर्माणाधीन हैं, उन्हें प्रत्येक दशा में अप्रैल माह में पूर्ण कर लें। मुख्यमंत्री ने बिजली विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि बिजली चोरी रोके जाने के लिए एक अभियान चलाया जाए।

मुख्यमंत्री ने कृषि मंडियों को व्यवस्थित करने तथा समस्त सुविधाओं से पूर्ण करने के निर्देश देते हुए कहा कि मंडियों में कर चोरी को सख्ती से रोका जाए। स्वास्थ्य सेवाओं को और मजबूत किए जाने पर बल देते हुए कहा कि प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए। शिक्षा गुणवत्ता को और अधिक मजबूत किए जाने के निर्देश दिए।

अपराधियों को बख्शा नहीं जाए

मुख्यमंत्री ने झांसी व चित्रकूट मंडल की कानून-व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि अपराधियों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाए। सार्वजनिक भूमि व सड़क को अतिक्रमण मुक्त कराएं, यदि दोबारा अतिक्रमण होता है, तो संबंधित थानाध्यक्ष जिम्मेदार होंगे। अपराध मुक्त प्रदेश देंगे, यह शासन की मंशा है, जिसमें सभी के साथ निष्पक्ष कार्रवाई करें।
 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Chief Minister gave advice to workers Do not take law in hand(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

महंत नृत्य गोपाल दास के शिष्य से मिले सीएम योगी आदित्यनाथअब मुख्यमंत्री योगी भी देंगे गरीबों को मुफ्त आशियाना
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »