PreviousNext

कलाकारों ने अनिरुद्ध की प्रेम कहानी को मंच पर उतारा

Publish Date:Fri, 19 May 2017 07:35 PM (IST) | Updated Date:Fri, 19 May 2017 07:35 PM (IST)
कलाकारों ने अनिरुद्ध की प्रेम कहानी को मंच पर उताराकलाकारों ने अनिरुद्ध की प्रेम कहानी को मंच पर उतारा
-फोटो भी है -इतिहासकार योगेश प्रवीन की रचना पर भातखंडे के छात्र-छात्राओं ने दी भावपूर्ण प्रस्तुति

-फोटो भी है

-इतिहासकार योगेश प्रवीन की रचना पर भातखंडे के छात्र-छात्राओं ने दी भावपूर्ण प्रस्तुति

जागरण संवाददाता, लखनऊ : द्वापर युग के राजा बाणासुर की कन्या उषा के एक स्वप्न को कलाकारों ने नृत्य नाटिका के माध्यम से जब मंच पर उतारा तो देखने वालों की खूब सराहना मिली। खचाखच भरे प्रेक्षागृह में दर्शकों की तालियां थमने का नाम नहीं ले रही थीं। वरिष्ठ इतिहासकार योगेश प्रवीन की रचना पर भातखंडे के छात्र-छात्राओं ने नृत्य नाटिका को भरतनाट्यम में पेश कर दर्शकों की वाहवाही लूटी।

एल्डिको कॉलोनी उद्यान-एक के पॉयनियर मांटेसरी स्कूल के सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम में दिखाई गई नृत्य नाटिका में उषा व अनिरुद्ध की प्रेम कहानी, अनिरुद्ध का संघर्ष व विवाह दिखाया गया है। एक घटे की इस प्रस्तुति में लगभग 27 कलाकारों ने मंच पर एक साथ प्रस्तुति दी। मंच पर उषा अपनी नटखट अदाओं से दर्शकों को रिझा रही थी, तो अनिरुद्ध का किरदार लोगों को सीट से उठने नहीं दे रहा था। इस मौके पर योगेश प्रवीन ने कलाकारों की तारीफ करते हुए बताया कि आज के इस दौर में जहां डीजे व रॉक डांस का जमाना है, ऐसे में कलाकारों ने शास्त्रीय प्रस्तुति देकर एक संदेश दिया है कि अपनी सभ्यता को नहीं भूलना चाहिए। नृत्य नाटिका में निधि, नवनीत, मोहित, अर्चना, मीतू, सविता, लवली, विद्या भूषण, प्रखर, श्रद्धा, बैजंती, मोनिका, श्रेया, कोमल, कीर्ति, वंदना, जया, अंश, प्रखर, प्रियांशु, गोविंद, रवि आदि की प्रस्तुति रही। वहीं निर्देशन प्रो. लक्ष्मी श्रीवास्तव व मुखसज्जा सहीर, वीना व विजय ने किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बेसिक शिक्षा विभाग की संयुक्त निदेशक ललिता प्रदीप रहीं। कार्यक्रम का संचालन अल्पना तिवारी ने किया। कॉलेज की प्रधानाचार्य शर्मिला सिंह ने सभी अतिथियों व दर्शकों का धन्यवाद किया।

इससे पहले कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन व संस्थापक प्रबंधक पूरन सिंह के चित्र पर माल्यार्पण करके किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के साथ विशिष्ट अतिथि इतिहासकार योगेश प्रवीन, आयकर अधिकारी राजकुमार सोनकर एवं सभी शाखाओं की प्रधानाचार्य मौजूद रहीं। पॉयनियर प्रबंधक बृजेंद्र सिंह ने सभी अतिथियों को पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। इस दौरान कॉलेज परिसर में एक विशिष्ट खेल का आयोजन किया गया। इसमें तीन अध्यापकों दीपेंद्र जोशी, स्वयं प्रकाश और शिखा टंडन को तीन दिन की नैनीताल यात्रा का पुरस्कार दिया गया। वहीं चतुर्थ श्रेणी मुन्नी आया को 5000 रुपये का पुरस्कार प्रदान किया गया। इसके अलावा गीत-नृत्य की भी प्रस्तुति हुई।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    मंत्री श्रीकांत शर्मा के आश्वासन के बाद सर्राफा व्यापारियों की हड़ताल खत्मसीतापुर के एक छात्र ने ऐसे रचा खुद के अपहरण का ड्रामा
    यह भी देखें