PreviousNextPreviousNext

भाव गिरा तो बढ़े सोने के खरीददार

Publish Date:Thursday,Apr 18,2013 11:35:08 PM | Updated Date:Thursday,Apr 18,2013 11:35:57 PM
भाव गिरा तो बढ़े सोने के खरीददार

जागरण संवाददाता, बदायूं : अप्रैल के शुरुआती दिनों में सोने का भाव 30280 रुपये प्रति दस ग्राम रहने पर किसी को उम्मीद नही थी कि 11 अप्रैल को 29600 रुपये बिकने के बाद भाव इतना गिर जाएगा। गुरुवार को इसका भाव 26350 रुपये प्रति दस ग्राम पहुंच गया।

सोने का भाव एकाएक गिरने से खरीददार खुश हैं। भले ही शादी ब्याह का अभी सीजन नहीं है फिर भी लोग अपनी जरूरत के हिसाब से आभूषण खरीद रहे हैं। एक सर्राफा बाजार में एक दुकान पर खरीददारी कर रहे नरेश चंद्र सिंह का कहना था कि अभी रेट सस्ता है तो क्यों न इसका फायदा उठाया जाए। फिर शादी ब्याह में लेनदेन भी चलता है। सो अभी खरीददारी कर रहे हैं। हालांकि सोने का रेट गिरने से विक्रेता इस बात को लेकर परेशान हैं कि महंगा खरीदा हुए आभूषण सस्ता बेचना पड़ रहा है। आगे क्या होगा। इसका भी कुछ अंदाजा नहीं है। इंतजार है रेट स्थिर होने का। पुराना बाजार में आभूषण विक्रेता राजेश रस्तोगी कहते हैं कि भाव कुछ भी हो, बेचना है।

1976 के सोने के रेट पर पहुंची चांदी

दिसंबर 2012 में 660 रुपये प्रति दस ग्राम चादी बिकी थी। 1976 मे सोने का भाव 532 रुपये प्रति दस ग्राम था। 11 अप्रैल 13 को चांदी का भाव 532 रुपये प्रति दस ग्राम रहा। गुरुवार को भाव और गिरकर 456 रुपये प्रति दस ग्राम रहा।

2012 भाव

अप्रैल 29910

मई 29810

जून 30740

जुलाई 30510

अगस्त 31460

सितंबर 33120

नवंबर 33140

दिसंबर 32100

2013 भाव

जनवरी 31630

फरवरी 31630

मार्च 31120

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए क्लिक करें m.jagran.com परया

कमेंट करें

Web Title:

(Hindi news from Dainik Jagran, newsstate Desk)

सर्वप्रिय था सम्राट अशोक का शासनयहां नो इंट्री का कोई मतलब नहीं

प्रतिक्रिया दें

English Hindi
Characters remaining


लॉग इन करें

यानिम्न जानकारी पूर्ण करें



Word Verification:* Type the characters you see in the picture below

    यह भी देखें

    स्थानीय

      यह भी देखें
      Close
      कोहरे से गिरा सब्जियों का भाव
      कोहरे के चलते गिरा सब्जियों का भाव
      ब्लैक में केरोसिन खरीददार व कोटेदार के खिलाफ रिपोर्ट