PreviousNext

सहारनपुर से लाता था नशीले टीके, गिरफ्तार

Publish Date:Sun, 16 Apr 2017 08:38 PM (IST) | Updated Date:Sun, 16 Apr 2017 08:38 PM (IST)
सहारनपुर से लाता था नशीले टीके, गिरफ्तारसहारनपुर से लाता था नशीले टीके, गिरफ्तार
फोटो - 96 सफलता - थाना एक की पुलिस ने एक नशेड़ी, भगौड़े व माल भरा ट्रक चुराने वाले को द

फोटो - 96

सफलता

- थाना एक की पुलिस ने एक नशेड़ी, भगौड़े व माल भरा ट्रक चुराने वाले को दबोचा

- इंडिस्ट्रयल एरिया की फैक्ट्री मालिक का चप्पल से भरा ट्रक उत्तराखंड में बेच दिया था आरोपी ने

जागरण संवाददाता, जालंधर : थाना एक की पुलिस ने एक नशेड़ी, एक भगौड़े और एक माल से भरा ट्रक चुराकर कहीं और बेचने वाले को गिरफ्तार किया। पुलिस ने एक आरोपी को जेल भेज दिया और बाकियों से पूछताछ जारी है।

पहले मामले में इंस्पेक्टर नवदीप सिंह ने बताया कि जिंदा चौक निवासी आरोपी संदीप सिंह है शहर में ही ऑटो, ट्रक आदि चलाता है। पुलिस के मुताबिक संदीप नशे के इंजेक्शन लगाता और बेचता भी है। पुलिस की मानें तो शहर में नशे को लेकर सख्ती के चलते वह बाहर से नशे के इंजेक्शन लाने लगा। टैक्सी चलाने के दौरान उसके लिंक बाहरी राज्यों के नशा तस्करों से हो गए। जिस पर वह पिछले तीन माह से सहारनपुर से नशीले इंजेक्शन लाने लगा व यहां बेचने लगा। एएसआइ राकेश कुमार ने वेरका मिल्क प्लांट के पास उसे रविवार को गिरफ्तार किया। तलाशी में उससे 70 नशीले इंजेक्शन बरामद हुए।

भगौड़ा बना तो बचने के लिए भागता रहा इटली व दुबई

थाना एक में ही कई साल पुराने मारपीट के केस में भगौड़े आरोपी को पुलिस ने रविवार को पकड़ लिया। एसएचओ नवदीप ने बताया कि आरोपी व¨रदर कुमार संगत सिंह नगर में गली पांच में रहता है। व¨रदर को कोर्ट ने मारपीट के मामले में 2006 में पेश न होने पर उसे भगौड़ा करार दिया था। उसके बाद वह पुलिस से बचने के लिए इटली और दुबई में कई साल रहा। पिछले कुछ दिनों से वह घर आया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

माल लेकर निकले ड्राइवर ने डिलीवरी के बजाय बेच दिया, गिरफ्तार

इंडिस्ट्रयल एरिया में मार्च में फैक्ट्री मालिक का माल डिलीवर न करके बेचने वाले ट्रक ड्राइवर को पुलिस ने पकड़ लिया। पकड़ा गया आरोपी यूपी में सहारनपुर शामली का रहने वाला कल्लू है। कल्लू इंडस्ट्रियल एरिया में एक चप्पल फैक्ट्री में ट्रक ड्राइवर था। फैक्ट्री की ओर से उसे 15 मार्च 2017 को एक ट्रक चप्पल के साथ उत्तराखंड में डिलीवरी के लिए दिया गया था। उसने माल की डिलीवरी न करके पूरा ट्रक माल दूसरी जगह बेच दिया। पुलिस की जांच में वह आरोपी निकला। पिछले 25 दिनों से वह फरार था। पुलिस ने उसके घर आते ही दबिश दी और उसे पकड़ लिया।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:crime news(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

सेंट सोल्जर इंफॉर्मेशन काउंसलिंग सेंटर का शुभारंभआराम परस्त जिंदगी घातक बीमारियों का घर : डॉ. बलराज