PreviousNext

मणिपुर में मूसलधार बारिश के कारण तबाही, सरकार ने शुरू किया राहत कैंप

Publish Date:Mon, 19 Jun 2017 02:51 PM (IST) | Updated Date:Mon, 19 Jun 2017 03:15 PM (IST)
मणिपुर में मूसलधार बारिश के कारण तबाही, सरकार ने शुरू किया राहत कैंपमणिपुर में मूसलधार बारिश के कारण तबाही, सरकार ने शुरू किया राहत कैंप
इंफाल नदी के बेसिन के दक्षिण और पश्चिमी जिलों में बड़े हिस्से में बाढ़ के प्रभाव के कारण लगभग 250 परिवार घर से बेघर हो गए हैं।

इम्फाल (एएनआई)। मणिपुर में पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से राज्य के कई हिस्सों में बाढ़ आ गई है, साथ ही राज्य की अधिकतर नदियां खतरे के निशान के ऊपर चली गई हैं। इम्फाल नदी में आई बाढ़ ने मणिपुर के पाओबाइटक और उपोक्पी गांवों को व्यापक रुप से प्रभावित किया है, जिसमें मछुआरों सहित 250 घरों और 1000 एकड़ के धान के खेतों को नुकसान पहुंचा है।

इम्फाल नदी के बेसिन के दक्षिण और पश्चिमी जिलों में बड़े हिस्से में बाढ़ के प्रभाव के कारण लगभग 250 परिवारों को सामुदायिक हॉल या रिश्तेदारों के घरों में शरण लेने के लिए मजबूर होना पड़ा है। दूसरी नदियों में पानी के स्तर में गिरावट आने के बावजूद इम्फाल घाटी - इम्फाल पूर्वी, इम्फाल पश्चिम, थौबल और बिष्णुपुर में सभी चार जिलों में सैकड़ों मकान और धान के खेत बुरी तरह प्रभावित हुए हैं क्योंकि सभी नदियां उफान पर हैं।

राज्य सरकार ने स्थानीय विधायकों से हाथ मिलाकर प्रभावित स्थलों पर राहत शिविर लगाकर पीड़ितों की सहायता की अपील की है। नदियों में आई बाढ़ के कारण कई पुल और घर बह गए हैं। इसके अलावा भूस्खलन के कारण सड़क और खेत पूरी तरह नष्ट हो चुके हैं। प्रभावित इलाकों में राहत कार्यों को संचालित करने के लिए प्रमुख कदम उठाए गए हैं।

यह भी पढ़ें : मणिपुर के इम्फाल में महसूस किए गए 4.4 तीव्रता के भूकंप के झटके 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Torrential rains cause havoc in Manipur(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

भाजपा चुनाव जीत सकती है, लेकिन कश्मीर नहीं बचा सकती: शिवसेनाIB, NIA के रडार पर केरल की ‘गाजा स्ट्रीट’, आतंकी गतिविधि का संदेह
यह भी देखें