PreviousNext

रोहिंग्या मुद्दे पर भारत को बनाया जा रहा है विलेनः किरण रिजिजू

Publish Date:Wed, 13 Sep 2017 07:45 PM (IST) | Updated Date:Wed, 13 Sep 2017 07:45 PM (IST)
रोहिंग्या मुद्दे पर भारत को बनाया जा रहा है विलेनः किरण रिजिजूरोहिंग्या मुद्दे पर भारत को बनाया जा रहा है विलेनः किरण रिजिजू
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने देश की छवि बिगाड़ने के प्रयासों की निंदा की..

नई दिल्ली, प्रेट्र : केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने रोहिंग्या शरणार्थियों के मुद्दे पर भारत को विलेन बनाने के प्रयासों की निंदा की। उन्होंने कहा कि यह देश की छवि खराब करने का एक संगठित प्रयास है। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख जेइद राद अल-हुसैन के बयान के दो दिनों बाद यह टिप्पणी की है। हुसैन ने रोहिंग्या मुस्लिमों को म्यांमार वापस भेजने के भारत के प्रयासों की आलोचना की थी।

रिजिजू ने कहा कि रोहिंग्या मुस्लिम शरणार्थियों को लेकर भारत की आलोचना की गई है। इन शरणार्थियों ने देश की सुरक्षा को धता बताया है। गृह राज्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा है, 'रोहिंग्या मुद्दे पर भारत को विलेन बनाने के लिए आवाजें उठाई जा रही हैं।'

केंद्र सरकार रोहिंग्या मुस्लिमों को वापस भेजने की योजना बना रही है। म्यांमार में हिंसा शुरू होने के बाद से रोहिंग्या मुस्लिम समुदाय पलायन कर रहा है। भारत इसे गैरकानूनी आव्रजक मानता है।

नौ अगस्त को सरकार ने संसद को बताया था कि उपलब्ध आंकड़े के अनुसार, एनएचसीआर में पंजीकृत 14000 से ज्यादा रोहिंग्या भारत में रह रहे हैं। लेकिन संकेतों के अनुसार, करीब 40,000 रोहिंग्या भारत में गैरकानूनी रूप से रह रहे हैं। ये जम्मू, हैदराबाद, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली-एनसीआर और राजस्थान में हैं।

मणिपुर को घुसपैठ पर सतर्क किया 

इंफाल : म्यांमार से लगते मणिपुर के पहाड़ी जिलों से रोहिंग्या मुस्लिमों के घुसपैठ की आशंका को देखते हुए सतर्कता बरतने को कहा गया है। पिछले तीन दिनों से पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है। पुलिस ने बताया है कि अभी तक एक भी गैरकानूनी आव्रजक नहीं पकड़ा गया है।

यह भी पढ़ेंः दाऊद के खिलाफ भी मोदी की कूटनीति आ रही काम, यूके में डॉन की संपत्ति जब्त

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Stop Chorus Of India As Villain On Rohingya Muslim Issue says Kiren Rijiju(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

शिंजो एबी के भारत दौरे से दोनों देशों के कूटनीतिक रिश्तों को मिलेगी मजबूतीएनयूएलएम का पैसा क्यों नहीं खर्च कर रहे राज्य: सुप्रीम कोर्ट
यह भी देखें