PreviousNext

पंजाब में आप के अभियान को थामने उतरेंगे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी

Publish Date:Wed, 19 Oct 2016 08:13 PM (IST) | Updated Date:Wed, 19 Oct 2016 09:53 PM (IST)
पंजाब में आप के अभियान को थामने उतरेंगे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी
पार्टी सूत्रों के अनुसार राहुल का पूरा फोकस उत्तरप्रदेश के बाद पंजाब पर होगा। इसलिए शीतकालीन सत्र से पहले की रैलियों की रूपरेखा बन रही है।

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। फिलहाल उत्तर प्रदेश चुनाव पर पूरी तरह फोकस कर रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अब पंजाब के चुनावी मैदान का भी रूख करेंगे। पंजाब को लेकर कांग्रेस के लिए आए कुछ ताजा सर्वेक्षणों से उत्साहित राहुल की दिवाली के बाद दो से तीन बड़ी रैलियों का कार्यक्रम बनाया जा रहा है।

पार्टी सूत्रों के अनुसार, राहुल का पूरा फोकस उत्तर प्रदेश के बाद पंजाब पर होगा। इसीलिए संसद के शीत सत्र से पहले पंजाब में तीन रैलियों की रूपरेखा बन रही है। इसमें एक रैली मोगा तो दूसरी लुधियाना में करने की योजना है। तीसरी जगह पंजाब में कांग्रेस के मुख्यमंत्री उम्मीदवार कैप्टन अमरिंदर की सलाह से तय होगी। कांग्रेस का आकलन है कि ताजा जमीनी सर्वेक्षणों में पंजाब में आम आदमी पार्टी की लोकप्रियता का ग्राफ थमा है। ताजा परिस्थितियों में कांग्रेस मान रही कि आप के मुकाबले उसे थोड़ी बढ़त है। मगर यह बढ़त इतनी भी नहीं कि सत्ता की दौड़ के लिए निर्णायक हो।

कांग्रेस के रणनीतिकारों का आकलन है कि चुनाव निकट आने के साथ ही आप नेता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का पंजाब में प्रचार अभियान जोर पकड़ेगा। पंजाब के पिछले दौरों में उनके जनसंपर्क को मिले समर्थन को पार्टी चुनौती मान रही है। इसीलिए कांग्रेस की रणनीति है कि चुनाव अभियान को फिलहाल इस तरह गति दी जाए कि आप आने वाले समय में उससे पीछे दिखाई दे। समझा जाता है कि इस रणनीति के लिहाज से भी राहुल गांधी की पंजाब में रैलियों का कार्यक्रम पार्टी बना रही है।

पढ़ें- यूपी चुनाव में कांग्रेस का अारक्षण कार्ड, जानिए किसको मिलेगा लाभ

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Rahul Gandhi will hold AAP in Punjab assembly election(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

माइकल फरेरा को मुंबई से हैदराबाद लाई पुलिसयूनिटेक फ्लैट खरीददारों का पैसा लौटाए : सुप्रीम कोर्ट
यह भी देखें

संबंधित ख़बरें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »