PreviousNext

जगतगुरू कृपालु जी महाराज पंचतत्व में विलीन

Publish Date:Mon, 18 Nov 2013 02:26 PM (IST) | Updated Date:Mon, 18 Nov 2013 02:34 PM (IST)
जगतगुरू कृपालु जी महाराज पंचतत्व में विलीन
जगतगुरू कृपालु जी महाराज सोमवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। हजारों सत्संगियों की मौजूदगी में मनगढ़ धाम स्थित भक्ति मंदिर के ठीक सामने उनको उनके पौत्र ने मुखाग्नि देकर अंतिम विदाई द

कुंडा, प्रतापगढ़। जगतगुरू कृपालु जी महाराज सोमवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। हजारों सत्संगियों की मौजूदगी में मनगढ़ धाम स्थित भक्ति मंदिर के ठीक सामने उनको उनके पौत्र ने मुखाग्नि देकर अंतिम विदाई दी।

पढ़ें: कृपालु महाराज का देहावसान

जगतगुरू का 15 नवंबर को इलाज के दौरान गुडगांव के फोर्टिस अस्पताल में निधन हो गया था। शुक्रवार की देर शाम उनका शव मनगढ़ लाया गया था। यहां पर तीन दिन तक उनका पार्थिव शरीर भक्तों के अंतिम दर्शन के लिए भक्तिधाम के सत्संग हाल में रखा गया था। सोमवार को सुबह उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई। यह मनगढ़ गांव से घूमती हुई भक्तिधाम मुख्यमंदिर के समक्ष पहुंची, जहां पर पूर्वान्ह 10.30 बजे जगतगुरू के पौत्र रामानंद त्रिपाठी ने चिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान वहां मौजूद उनके हजारों भक्त बिलखते रहे। उनकी तीनों बेटियां विशाखा त्रिपाठी, कृष्णा और श्याम दोनों बेटे धनश्याम और बालकृष्ण समेत परिवार के सदस्य व राजनेताओं ने अंतिम संस्कार में शामिल होकर जगतगुरू को अंतिम प्रमाण किया।

इस मौके पर कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमोद मौर्या, सांसद कौशांबी शैलेंद्र कुमार, सहित तमाम लोग उसमें मौजूद रहे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:jagat guru Kripalu Ji Maharaj cremated(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

चाइल्ड पोर्नोग्राफी पर दूरसंचार विभाग को सुप्रीम कोर्ट का नोटिसउन्नाव: एएसआई ने खत्म की खजाने की खोज
अपनी प्रतिक्रिया दें
  • लॉग इन करें
अपनी भाषा चुनें




Characters remaining

Captcha:

+ =


आपकी प्रतिक्रिया
  • img

    test

    However Krapaluji has given a lot but can be said that whatever given does not any way help to common people or the nation. He did not perform for common people or any broad interest of nation................r.p.sharma, delhi

यह भी देखें

संबंधित ख़बरें