PreviousNextPreviousNext

एयर मार्शल अरुप राहा होंगे भारतीय वायु सेना के नए प्रमुख

Publish Date:Tue, 29 Oct 2013 01:45 PM (IST) | Updated Date:Tue, 29 Oct 2013 01:51 PM (IST)
एयर मार्शल अरुप राहा होंगे भारतीय वायु सेना के नए प्रमुख

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना प्रमुख एनएके ब्राउन के दिसंबर में रिटायर होने के बाद एयर मार्शल अरुप राहा के अगले वायुसेना प्रमुख बनने पर मुहर लग गई है। गौरतलब है कि कुछ दिनों से अरुप राहा के वायुसेना प्रमुख बनने की खबरे चर्चा में थी, लेकिन इसकी आधिकारिक घोषणा मंगलवार को हुई।

वायुसेना में सर्वोच्च पद के लिए नियुक्ति की प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी थी और उम्मीद थी कि राहा को ही अगला वायुसेना प्रमुख बनाया जाएगा। राहा वर्तमान समय में उप वायुसेना प्रमुख हैं और वह वायुसेना में वरिष्ठतम तीन स्टार अधिकारी हैं और वह इस पद के लिए दौड़ में सबसे आगे थे।

राहा ने दिसम्बर 1974 में वायुसेना के लड़ाकू विमान पायलट के रूप में कमीशन प्राप्त किया। उनके पास विभिन्न तरह के लड़ाकू विमानों को 3400 घंटे से अधिक समय उड़ाने का अनुभव है। वह एक अनुभवी निपुण उड़ान प्रशिक्षक हैं।

राहा ने तम्बाराम [तमिलनाडु] स्थित फ्लाइंग इंस्ट्रक्टर स्कूल और वायुसेना के ग्वालियर स्थित टैकटिक्स एंड काम्बैट डेवलप्मेंट इस्टैब्लिशमेंट डायरेक्टर स्टाफ के रूप में कार्य कर चुके हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए क्लिक करें m.jagran.com परया

कमेंट करें

Tags: # Air Marshal , # Arup Raha , # next IAF chief , # fighter pilot , # will Chief Marshal NAK Browne retiring , # December 31. ,

Web Title:Air Marshal Arup Raha to be the next IAF chief

(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

केदारनाथ में मकानों में अभी भी दबे हैं कई शवछेड़छाड़ के बाद बालिका को जलाने का प्रयास

 

अपनी भाषा चुनें
English Hindi
Characters remaining


लॉग इन करें

यानिम्न जानकारी पूर्ण करें

Name:
Email:

Word Verification:* Type the characters you see in the picture below

 

    वीडियो

    स्थानीय

      यह भी देखें
      Close
      अरूप राहा बने नए वायुसेना प्रमुख
      चीनी घुसपैठ की टाइमिंग को वायुसेना प्रमुख ने बताया रहस्य
      भारत खरीदेगा एक और सी 130-जे हरक्यूलिस विमान