PreviousNext

कोर्स व डिग्री कराने के नाम पर पैसे ऐंठने की शिकायत एसपी से की

Publish Date:Fri, 08 Jun 2012 08:12 PM (IST) | Updated Date:Fri, 08 Jun 2012 08:13 PM (IST)

जागरण संवाद केंद्र, जींद : दूसरे प्रदेशों से विभिन्न प्रकार के कोर्स कराने के नाम पर शहर में कई संस्थाओं द्वारा खुली लूट की दुकान चलाई जा रही है। कई संस्थान कोर्स कराने के नाम पर मोटी रकम वसूल कर ठग रहे हैं। पैसे ऐंठने के लिए ये संचालक विभिन्न प्रदेशों के शिक्षण संस्थानों के फर्जी पहचान पत्र तक जारी कर देते हैं। ऐसा ही एक मामला हाउसिंग बोर्ड नंबर 12 में चल रहे शिक्षण संस्थान बीसीएमईटी का प्रकाश में आया है। विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों को विभिन्न प्रकार के कोर्स व डिग्रिया कराने के लंबे-चौड़े वादे कर झूठे सब्जबाग दिखाने वाले इस संस्थान की संचालिका के खिलाफ पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी है।

पटियाला चौक निवासी शिकायतकर्ता सुरेंद्र कुमार ने पुलिस अधीक्षक को दी शिकायत में बताया कि उसका वर्ष-2011 में दिल्ली निवासी उसके दोस्त की लड़की का बीएड में दाखिला कराने के लिए इस संस्थान की संचालिका शशिप्रभा त्रिपाठी से संपर्क हुआ। इस संस्थान की संचालिका ने उन्हें बताया कि वह जम्मू राज्य से विद्यार्थी की बीएड करवा देगी तथा उसकी रेगुलर क्लासें उसके जींद संस्थान में ही लगेगी। बीएड करवाने की एवज में एसपी त्रिपाठी ने उनसे 65 हजार रुपये ले लिए। संचालिका ने अप्रैल-2012 में शिक्षण कक्षाएं लगने व पेपर होने की बात कही थी। शिकायतकर्ता ने जब अप्रैल माह में संस्थान से संपर्क किया तो इन्होंने ने कोई संतोषजनक जवाब नही दिया।

शिकायतकर्ता द्वारा दाखिले बारे सबूत मागने पर उक्त संचालिका ने जय हिंद बिसमिल शिक्षा महाविद्यालय, अम्बाह, जिला मुरैना (मध्यप्रदेश) का एक उम्मीदवार के नाम सर्टिफिकेट दे दिया जबकि उम्मीदवार व उसके अभिभावकों को इस महाविद्यालय में दाखिले की कोई जानकारी नही दी। मध्यप्रदेश के सर्टिफिकेट देने पर जब एतराज जताया गया तो संचालिका ने उन्हें तीन-चार दिन बाद आने को कहा। इस मामले में मजे की बात तो यह रही कि तीन-चार दिन के बाद संचालिका ने उम्मीदवार के नाम अलमदार आगनबाड़ी वर्कर्स ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट सोपोर (कश्मीर) का एक पहचान पत्र दे दिया। शिकायतकर्ता द्वारा पेपरों का दबाव देने पर उक्त संचालिका ने शिकायतकर्ता को ओबीसी बैंक का एक चेक नंबर 671847 दिनाक 30/04/2012 का दे दिया, जो इसी दिन बैंक ने पैसे न होने की एवज में लौटा दिया। शिकायतकर्ता ने उक्त संचालिका के खिलाफ जाली कागजात तैयार करने व धोखाधड़ी करके पैसे हड़पने की शिकायत दी हैं।

खबर छापी तो एसपी से कहकर हाथ-पैर तुड़वा दूंगी : शशिप्रभा

इस मामले में जब इस संस्थान की संचालिका शाशिप्रभा त्रिपाठी से बातचीत की तो उन्होंने दैनिक जागरण कार्यालय में आकर जमकर हंगामा किया और कहा कि यदि खबर छापी तो एसपी से कहकर हाथ पैर तुड़वा दूंगी। मैं यूपी की रहने वाली हूं। मेरा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। हमने बीएड कराने के पैसे लिए हैं। परीक्षा लेना या न लेना विश्वविद्यालय का काम है।

शिकायत को मार्क किया गया

इस मामले में जब पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार से संपर्क किया गया तो उनका फोन रीडर विजय से उठाया। एसपी किसी काम में व्यस्त है। जब शिकायत बारे पूछा गया तो उन्होंने बताया कि शिकायत जरूर आई है और एसपी साहब ने इसे मार्क कर दिया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयासकष्ट निवारण समिति के सदस्य बने सज्जान
    यह भी देखें
    अपनी प्रतिक्रिया दें
      लॉग इन करें
    अपनी भाषा चुनें




    Characters remaining

    Captcha:

    + =


    आपकी प्रतिक्रिया

      मिलती जुलती

      यह भी देखें
      Close