PreviousNext

आइपीएल-10: आज घायल शेरों के शिकार को तैयार नाइटराइडर्स

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 12:58 AM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 05:38 PM (IST)
आइपीएल-10: आज घायल शेरों के शिकार को तैयार नाइटराइडर्सआइपीएल-10: आज घायल शेरों के शिकार को तैयार नाइटराइडर्स
गुजरात की टीम को फिलहाल 'घायल शेर' कहा जाए तो गलत नहीं होगा।

विशाल श्रेष्ठ, कोलकाता। एक तरफ आइपीएल-10 में अब तक की सबसे मजबूत टीम, तो दूसरी ओर सबसे कमजोर। प्रदर्शन और आंकड़े, दोनों बयां कर रहे हैं कि फिलहाल कोलकाता नाइटराइडर्स का पलड़ा गुजरात लायंस की तुलना में ज्यादा भारी है। ऐसे में ईडन गार्डेस पर जब दोनों टीमें शुक्रवार को सत्र में दूसरी बार आमने-सामने होंगी तो मेजबान टीम से जोरदार जीत की उम्मीद होगी। हालांकि, क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है और टी-20 ने तो इसे और भी अबूझ बना दिया है।

गुजरात की टीम को फिलहाल 'घायल शेर' कहा जाए तो गलत नहीं होगा। कप्तान सुरेश रैना, ड्वेन स्मिथ, ब्रेंडन मैकुलम, एरोन फिंच, जेम्स फॉकनर जैसे एक से बढ़कर एक खिलाडि़यों से लैस यह टीम जीत के लिए तरस रही है। गुजरात को सत्र में पहला जख्म भी कोलकाता ने ही दिया है। कप्तान गौतम गंभीर की अगुआई वाली कोलकाता ने गुजरात को उसी के घर राजकोट में दस विकेट से करारी चोट दी थी।

जीत की हैट्रिक लगाना चाहेगी मेजबान टीम 

दोनों टीमों के बीच अब तक तीन मुकाबले हुए हैं, जिनमें दो गुजरात ने और एक कोलकाता ने जीता है। कोलकाता ने आइपीएल-10 में अब तक अपने पांच मैचों में से चार जीते हैं, जबकि गुजरात को इतने ही मैचों में सिर्फ एक जीत मिली है। कोलकाता ने पिछले तीन मैचों में जीत दर्ज की है और वह शुक्रवार को ईडन में भी जीत की तिकड़ी लगाना चाहेगा। मजबूत बल्लेबाजी और सशक्त गेंदबाजी के साथ कोलकाता बेहद संतुलित टीम नजर आ रही है। हालांकि, क्षेत्ररक्षण में सुधार की गुंजाइश जरूर है।

गंभीर का साथी कौन

गंभीर के साथी के लिए कोलकाता के टीम प्रबंधन को सोचना जरूर पड़ रहा है। सुनील नरेन हैदराबाद तो कोलिन डी ग्रैंडहोम दिल्ली के खिलाफ मैच में सलामी बल्लेबाज के तौर पर नाकाम रहे, इसलिए देखना है कि गंभीर इस बार किसके साथ उतरते हैं। ग्रैंडहोम के अब तक के प्रदर्शन को देखते हुए शाकिब अल हसन को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सकता है। ऐसे में अगर उन्हें गंभीर के साथ पारी शुरू करते देखा जाए तो हैरत नहीं होगी। वैसे टीम के पास रॉबिन उथप्पा के रूप में नियमित सलामी बल्लेबाज भी है, लेकिन उन्हें तीसरे स्थान की नई जिम्मेदारी सौंपी गई है, इसलिए शायद उन्हें फिर से पारी शुरू करने को न कहा जाए। कोलकाता का मध्य क्रम बेहद मजबूत है। मनीष पांडे शानदार फॉर्म में हैं। उन्होंने पिछले मैच में दिल्ली के खिलाफ टूर्नामेंट में अपना दूसरा पचासा जड़ा तो यूसुफ पठान का बल्ला भी गरजा।

कोलकाता की गेंदबाजी

नाथन कल्टर नील ने पिछले मैच में तीन विकेट लेकर कोलकाता की तेज गेंदबाजी को और धार दी है। उनके अलावा टीम में उमेश यादव और क्रिस वोक्स भी हैं। स्पिन गेंदबाजी की कमान सुनील नरेन, कुलदीप यादव और यूसुफ पठान की तिकड़ी बखूबी संभाले हुई है। शाकिब का आना सोने पे सुहागा होगा।

गुजरात को दिखाना होगा दम 

गुजरात की टीम की न तो बल्लेबाजी ठीक से चल रही और न गेंदबाजी। रवींद्र जडेजा की वापसी से काफी उम्मीदें बंधी थीं, लेकिन बेंगलूर के खिलाफ मैच में वह सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए। बल्लेबाजी का दारोमदार कप्तान रैना, सलामी बल्लेबाज मैकुलम और स्मिथ के कंधों पर होगा। मध्य क्रम में पटना के इशान किशन ने काफी प्रभावित किया है। ऐसे में उन्हें बल्लेबाजी में ऊपर लाया जा सकता है। स्मिथ और फिंच ने अब तक काफी निराश किया है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Knight riders ready for the tussle with Gujarat Lions(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

लगातार तीन मैचों में हार चुके किंग्स, अब रोहित के धुरंधर देंगे चुनौतीविराट के सामने होगी 'गंभीर' चुनौती, जीत की लय बरकरार रखना चाहेंगे रॉयल चैलेंजर्स
यह भी देखें