PreviousNext

ये हैं बिहार के सांसद, जानिए संसद में इनका ट्रैक रिकार्ड

Publish Date:Sat, 20 May 2017 09:50 AM (IST) | Updated Date:Sat, 20 May 2017 09:44 PM (IST)
ये हैं बिहार के सांसद, जानिए संसद में इनका ट्रैक रिकार्डये हैं बिहार के सांसद, जानिए संसद में इनका ट्रैक रिकार्ड
बिहार के कई ऐसे सांसद हैं जिनका ट्रैक रिकॉर्ड संसद में बहुत ख़राब है। इन्होने न तो किसी बहस में भाग लिया है और न ही कभी सवाल किये हैं।

पटना [रवि रंजन]। 16वीं लोकसभा में बिहार के 40 सांसद हैं। इन्हें बिहार की जनता ने अपनी समस्याओं के सामाधान और आवज उठाने के लिए सदन में भेजा है। चुनाव के समय कई ऐसे प्रतिनिधि होते हैं जो कहते हैं कि मुझे वोट दीजिए, मैं संसद में आपकी आवाज को उठाने का काम करूंगा। लेकिन जनता उसे चुनती जो उनकी आवाज को देश की सर्वोच्च लोकतांत्रिक संस्था संसद तक पहुंचाने का काम करे।

सांसदों को लोकसभा और राज्यसभा के सांसद कार्यकाल के दौरान 50 हजार रुपए का वेतन मिलता है। अगर वे संसद भवन में रखे रजिस्टर में हस्ताक्षर करते हैं तो उन्हें 2000 रुपए हर रोज का भत्ता मिलता है। 

कार्यालयीन खर्चों के लिए एक सांसद को 45000 रुपए प्रतिमाह मिलता है। इसमें से वह 15 हजार रुपए स्टेशनरी और पोस्ट आइटम्स पर खर्च कर सकता है। इसके अलावा अपने सहायक रखने पर सांसद 30 हजार रुपए खर्च कर सकता है। मेंबर ऑफ पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलपमेंट स्कीम के तहत सांसद अपने क्षेत्र में 5 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष खर्च करने की सिफारिश कर सकता है।  

यही नहीं, सांसदों को हर तीन महीने में 50 हजार रुपए यानी करीब 600 रुपए रोज घर के पर्दे और अन्य कपड़े धुलवाने के लिए मिलते हैं। हवाई यात्रा का 25 प्रतिशत ही देना पड़ता है। इस छूट के साथ एक सांसद सालभर में 34 हवाई यात्राएं कर सकता है। यह सुविधा सांसद के पति/पत्नी दोनों के लिए है। ट्रेन में सांसद फर्स्ट क्लास एसी में अहस्तांतरणीय टिकट पर यात्रा कर सकता है। उन्हें एक विशेष पास दिया जाता है। एक सांसद को सड़क मार्ग से यात्रा करने पर 16 रुपए ‍प्रतिकिलोमीटर के हिसाब से यात्रा भत्ता मिलता है।   

  

हमारे सांसदों को इतनी सारी सुविधायें मिलती है ताकि वे जनता की आवाज को सदन के पटल पर रख सकें। उनके लिए जब कानून बनें तो बहस कर जनता के अनुकूल बनवाने का प्रयास करें। लेकिन क्या आपको मालूम है कि आपके सासंद का लोकसभा में कैसा प्रदर्शन है। हम आपको बता रहे हैं आपके सांसद का 16 वीं लोकसभा का ट्रैक रिकार्ड। 

अजय निषाद को बिहार के मुजफ्फरपुर लोकसभा क्षेत्र की जनता ने चुनकर संसद में भेजा है। ये भाजपा पार्टी के हैं। अगर इनके संसद में उपस्थिति की बात करें तो इनका रिकार्ड काफी अच्छा है। सदन में इनकी उपस्थिति 97 प्रतिशत है। इन्होंसने कुल 17 बहस में हिस्सा लिया है और अभी तक इन्होंने 156 सवाल पूछे हैं। 

जहानाबाद लोकसभा क्षेत्र की जनता ने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के उम्मीदवार अरूण कुमार को संसद में भेजा है।सदन में इनकी उपस्थिति 84 प्रतिशत है। इन्होंने कुल 48 बहस में हिस्सा लिया है और 56 सवाल पूछे हैं। 

बक्सर की जनता ने भाजपा उम्मीदवार अश्विनी कुमार चौबे को भारी मतों से जिताकर संसद में भेजने का काम किया। सदन में इनकी उपस्थिति 93 प्रतिशत है। इन्होंने अब तक कुल 168 बहस में भाग लिया है और 134 सवाल पूछे हैं। 

किशनगंज लोकसभा क्षेत्र की जनता ने कांग्रेस पार्टी के अशराउल हक मोहम्मद को अपना प्रतिनिधि चुनकर सदन में भेजा है। इनकी उपस्थिति 89 प्रतिशत है। इन्होंने 11 बहस में हिस्सा लिया है और मात्र 1 सवाल पूछे हैं। 

झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र की जनता ने भाजप पार्टी बिरेंद्र कुमार चौधरी को संसद में भेजने का काम किया। इनकी उपस्थिति 96 प्रतिशत है। इन्होंने कुल 31 बहस में हिस्सा लिया है और 32 सवाल पूछे हैं।

सासाराम लोकसभा क्षेत्र से भाजपा पार्टी से छेदी पासवान संसद पहुंचे हैं। सदन में इनकी उपस्थिति 93 प्रतिशत है। इन्हों ने कुल 36 बहस में भाग लिया है और 41 सवाल पूछे हैं। 

बिहार के जमुई से लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान सांसद हैं। सदन में इनकी उपस्थिति 98 प्रतिशत रही है। इन्होंंने कुल 15 बहस में भाग लिया है और 77 सवाल पूछे हैं। 

बेगूसराय से भाजपा पार्टी से डा. भोला सिंह संसद पहुंचे हैं। सदन में इनकी उपस्थिति 88 प्रतिशत है। इन्होंने 23 बहस में भाग लिया है और 252 सवाल पूछे हैं। 

बिहार के नवादा से भाजपा के सांसद हैं गिरिराज सिंह। सदन में इनकी उपस्थिति 85 प्रतिशत है। इन्होंने एक भी बहस में भाग नहीं लिया है और मात्र 5 सवाल पूछे हैं। 

गया से भाजपा के सांसद हैं हरि मांझी। सदन में इनकी उपस्थिति 98 प्रतिशत रही है। इन्होंने कुल 14 बहस में भाग लिया है और 144 सवाल पूछे हैं। 

मधुबनी से भाजपा सांसद हैं हुकुमदेव नारायण सिंह। सदन में इनकी उपस्थिति 97 प्रतिशत रही है। इन्होंने कुल 34 बहस में भाग लिया है और 31 सवाल पूछे हैं। 

बांका से राष्ट्रीय जनता दल के सांसद हैं जय प्रकाश नारायण यादव। सदन में इनकी उपस्थिति 86 प्रतिशत रही है। इन्हों ने 144 बहस में भाग लिया है और 126 सवाल पूछे हैं। 

गोपालगंज से भाजपा के सांसद हैं जनक राम। सदन में इनकी उपस्थिति 97 प्रतिशत रही है। इन्होंने कुल 13 बहस में भाग लिया है और 79 सवाल पूछे हैं। 

महाराजगंज से भाजपा के सांसद हैं जनार्दन सिंह सिग्रिवाल। सदन में इनकी उपस्थिति 94 प्रतिशत रही है। 61 बहस में इन्होंने भाग लिया है और 303 सवाल पूछे हैं। 

नालंदा से जदयू के सांसद हैं कौशलेंद्र कुमार। सदन में इनकी उपस्थिति 96 प्रतिशत रही है। इन्होंने 170 बहस में भाग लिया है और 270 सवाल पूछे हैं। 

दरभंगा से भाजपा के सांसद हैं कीर्ति आजाद। सदन में इनकी उपस्थिति 96 प्रतिशत रही है। इन्होंने 24 बहस में भाग लिया है और 316  सवाल पूछे हैं। 

खगडि़या से लोजपा के सांसद हैं महबूब अली कैसर। सदन में इनकी उपस्थिति 88 प्रतिशत रही है। इन्होंंने 2 बहस में भाग लिया है और 2 सवाल पूछे हैं। 

उजियारपुर से भाजपा के सांसद हैं नित्यानंद राय। सदन में इनकी उपस्थिति 66 प्रतिशत रही है। इन्होंने 5 बहस में भाग लिया है और 141 सवाल पूछे हैं। 

सिवान से भाजपा के सांसद हैं ओम प्रकाश यादव। सदन में इनकी उपस्थिति 80 प्रतिशत रही है। इन्होंदने 31 बहस में भाग लिया है और 269 सवाल पूछे हैं। 

आरा से भाजपा के सांसद हैं राज कुमार सिंह। सदन में इनकी उपस्थिति 97 प्रतिशत रही है। इन्होंने 18 बहस में भाग लिया है और 45 सवाल पूछे हैं। 

मधेपुरा से राजद के सांसद हैं राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव। फिलहाल ये जन अधिकार पार्टी के संरक्षक बने हुए हैं। सदन में इनकी उपस्थिति 73 प्रतिशत रही है। इन्होंने 170 बहस में भाग लिया है और 249 सवाल पूछे हैं। 

सारण से भाजपा के सांसद हैं राजी प्रताप रूडी। सदन में इनकी उपस्थिति 85 प्रतिशत रही है। इन्होंने 9 बहस में भाग लिया है और 36 सवाल पूछे हैं। 

समस्तीतपुर से लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद हैं रामचंद्र पासवान। सदन में इनकी उपस्थिति 78 प्रतिशत रही है। इन्होंने 2 बहस में भाग लिया है और 3 सवाल पूछे हैं। 

पाटलिपुत्रा से भाजपा के सांसद हैं रामकृपाल यादव। सदन में इनकी उपस्थिति 91 प्रतिशत रही है। इन्होंने 19 बहस में भाग लिया है और मात्र 1 सवाल पूछे हैं। 

सीतामढ़ी से राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के सांसद हैं राम कुमार शर्मा। सदन में इनकी उपस्थिति 92 प्रतिशत रही है। इन्होंने 15 बहस में भाग लिया है और 117 सवाल पूछे हैं। 

शिवहर से भाजपा की सांसद हैं रमा देवी। सदन में इनकी उपस्थिति 97 प्रतिशत रही है। इन्होंने 98 बहस में भाग लिया है और 405 सवाल पूछे हैं। 

वैशाली से लोजपा के सांसद हैं राम किशोर सिंह उर्फ रामा सिंह। सदन में इनकी उपस्थिति 64 प्रतिशत रही है। इन्होंने 14 बहस में भाग लिया है और 185 सवाल पूछे हैं। 

सुपौल से कांग्रेस की सांसद हैं रंजीता रंजन। सदन में इनकी उपस्थिति 91 प्रतिशत रही है। इन्होंने 72 बहस में भाग लिया है और 202 सवाल पूछे हैं। 

पश्चिमी चंपारण से भाजपा के सांसद हैं संजय जायसवाल। सदन में इनकी उपस्थिति 88 प्रतिशत रही है। इन्होंने 70 बहस में भाग लिया है और 239 सवाल पूछे हैं। 

पूर्णिया से जदयू के सांसद हैं संतोष कुमार। सदन में इनकी उपस्थिति 66 प्रतिशत रही है। इन्होंयने 22 बहस में भाग लिया है और 63 सवाल पूछे हैं। 

वाल्मिकी नगर से भाजपा के सांसद हैं सतीश चंद्र दूबे। सदन में इनकी उपस्थिति 89 प्रतिशत रही है। इन्होंने 29 बहस में भाग लिया है और 135 सवाल पूछे हैं। 

भागलपुर से राजद के सांसद हैं शैलेष कुमार उर्फ बुलो मंडल। सदन में इनकी उपस्थिति 82 प्रतिशत रही है। इन्होंने 44 बहस में भाग लिया है और 56 सवाल पूछे हैं। 

पटना साहिब से भाजपा के सांसद हैं शत्रुघ्न सिन्हा‍। सदन में इनकी उपस्थिति 70 प्रतिशत रही है। इन्हों ने न ताे एक भी बहस में भाग लिया है और न हीं कोई सवाल पूछे हैं। 

औरंगाबाद से भाजपा के सांसद हैं सुशील कुमार सिंह। सदन में इनकी उपस्थिति 88 प्रतिशत रही है। इन्होंने 61 बहस में भाग लिया है और 308 सवाल पूछे हैं। 

कटिहार से राकंपा के सांसद है तारिक अनवर। सदन में इनकी उपस्थिति 90 प्रतिशत रही है। इन्होंने 33 बहस में भाग लिया है और 100 सवाल पूछे हैं। 

अररिया से राजद के सांसद हैं तसलीमुद्दीन। सदन में इनकी उपस्थिति 79 प्रतिशत रही है। इन्होंने एक भी बहस में भाग नहीं लिया है। सिर्फ 2 सवाल पूछे हैं। 

यह भी पढ़ें: लालू की ललकार- छापा तो हम मारेंगे 2019 में, बीजेपी को चैन से नहीं बैठने देंगे

मुंगेर से लोजपा की सांसद हैं वीणा देवी। सदन में इनकी उपस्थिति 92 प्रतिशत रही है। इन्होंने 23 बहस में भाग लिया है और 149 सवाल पूछे हैं। 

ये सारे आंकड़े पीएसएस की वेबसाइट पर दिये गये हैं। इनमें केंद्रीय मंत्री के ट्रैक रिकार्ड शामिल नहीं है।

यह भी पढ़ें: बिहार TET की परीक्षा तिथि में बदलाव, अब 29 जून को होगी परीक्षा

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Know the track record of MPs of bihar in Parliament(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जल्द ही घोषित किए जाएंगे बिहार में विभिन्न बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्टपटना के GV मॉल में लगी भीषण आग, करोड़ों की संपत्ति का नुकसान
यह भी देखें