PreviousNextPreviousNext

फंदे से झूली जेल अधीक्षक की पुत्री

Publish Date:Sunday,Apr 21,2013 09:58:52 AM | Updated Date:Sunday,Apr 21,2013 10:00:52 AM
फंदे से झूली जेल अधीक्षक की पुत्री

पटना : गर्दनीबाग थानाक्षेत्र स्थित मगध विहार कालोनी के डी सेक्टर 6-बी के मकान सं. 19 में शनिवार को जेल अधीक्षक केके उपाध्याय की बेटी साक्षी (14) फंदे से झूल गई। घटना के बाद घरवालों ने मामले को रफा-दफा करने का पूरा प्रयास किया। पड़ोसियों की सूचना पर ढाई घंटे बाद पुलिस पहुंची। तबतक घटना स्थल का पूरा नक्शा बदल चुका था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

बताते चलें कि दरभंगा रिमांड होम के अधीक्षक केके उपाध्याय मगध विहार कालोनी के डी सेक्टर स्थित अधिवक्ता प्रभात मिश्रा के मकान सं. 19 में किराए पर रहते हैं। यहां उनकी पत्‍‌नी और तीन बेटियां साथ रहती हैं। वह अपनी बड़ी बेटी सुरुचि को परीक्षा दिलाने के लिए कोलकाता गए हुए हैं। आज दोपहर करीब एक बजे उनकी छोटी बेटी साक्षी ने अपने कमरे में पंखे से रस्सी बांध कर खुदकुशी कर ली। साक्षी शहर के एक नामी स्कूल में नौवीं की छात्रा है। जैसे ही उनकी मां और बहन को इसकी जानकारी हुई, बदनामी से बचने के लिए उन्होंने किराएदारों और रिश्तेदारों को मेल में लेकर साक्षी की आकस्मिक मौत का ढोंग रच दिया। घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि साक्षी मेज पर खड़ी होकर पंखा साफ कर रही थी, तभी उसका पांव फिसल गया और ब्रेन हैमरेज से उसकी मौत हो गई।

थानाध्यक्ष बलराम प्रसाद ने बताया कि साक्षी के शरीर पर किसी प्रकार के चोट का निशान नहीं है। उसके गले पर काला दाग मिला है, जो आमुमन फांसी लगाने पर होता है। उन्होंने कहा कि साक्षी के शव को कब्जे में ले लिया गया है। उसके पिता के आने पर रविवार को शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए क्लिक करें m.jagran.com परया

कमेंट करें

Web Title:

(Hindi news from Dainik Jagran, newsstate Desk)

पूरे देश में इंजीनियरों को एक समान वेतन-भत्ता की सुविधा मिलेउद्योग के लिए अब निजी जमीन का सहारा

प्रतिक्रिया दें

English Hindi
Characters remaining


लॉग इन करें

यानिम्न जानकारी पूर्ण करें



Word Verification:* Type the characters you see in the picture below

    यह भी देखें

    स्थानीय

      यह भी देखें
      Close
      मुजफ्फरपुर के जेल अधीक्षक निलंबित
      हास्टल के कमरे में छात्रा पंखे से झूली
      स्कार्पियों ने पिता-पुत्री को रौंदा