लंदन, रायटर। ब्रिटेन में प्रिंस हैरी अपना शाही दर्जा छोड़ने की घोषणा के बाद गुरुवार को पहली बार लोगों के बीच आए। पौत्र प्रिंस हैरी और उनकी अमेरिकी पत्नी मेगन की इच्छानुसार महारानी एलिजाबेथ ने उनकी वरिष्ठ शाही सदस्य का दर्जा छोड़ने की इच्छा स्वीकार कर ली है। शाही दंपती अब अपने लिए स्वतंत्र भूमिका की तलाश में हैं।

ब्रिटेन के सिंहासन के छठे नंबर के दावेदार प्रिंस हैरी ने गुरुवार को बकिंघम पैलेस के गार्डेन में बच्चों को रग्बी का लीग मैच खेलते देखा। ये बच्चे अगले साल होने वाले विश्व कप के लिए तैयारी कर रहे थे। प्रिंस हैरी के लिए शाही अतिथि के रूप में जिम्मेदारी निभाने का यह आखिरी मौका था।

पिछले हफ्ते प्रिंस हैरी (35) और उनकी पत्नी मेगन (38) ने अपनी शाही जिम्मेदारी को छोड़ने को इच्छा जताई थी। वे अपना ज्यादा समय अमेरिका में गुजारना चाहते हैं, जहां वे आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने के लिए कुछ काम करना चाहते हैं। शाही दंपती की यह इच्छा महारानी और बाकी के शाही परिवार के लिए झटके जैसी थी।

शाही परिवार ने बैठक कर फैसले पर विचार किया

सोमवार को सैंड्रिंघम एस्टेट में परिवार ने बैठकर हालात पर विचार किया। इस बैठक में महारानी एलिजाबेथ के अलावा प्रिंस हैरी, उनके बड़े भाई प्रिंस विलियम और उनके पिता प्रिंस चा‌र्ल्स शामिल हुए थे। बैठक में तय हुआ कि प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी ब्रिटेन, कनाडा और अमेरिका में इच्छानुसार अपना समय व्यतीत कर सकते हैं।

बैठक के बाद 93 वर्षीय महारानी ने गैर परंपरागत दुर्लभ बयान जारी कर कहा, हम चाहते थे कि दंपती शाही परिवार का हिस्सा बने रहें। लेकिन हम उनकी ज्यादा स्वतंत्र जीवन जीने की इच्छा का भी सम्मान करते हैं। इसलिए उन्हें शाही परंपराओं से बाहर जाने की अनुमति देते हैं।

जबकि शाही दंपती ने कहा, वे जीवन में प्रगतिवादी नई भूमिका अपनाना चाहते हैं। नई भूमिका में वह अपने लिए धन भी कमाना चाहते हैं और हैसियत भी बनाना चाहते हैं। मेगन इस समय अपने बेटे आर्ची के साथ कनाडा में हैं जबकि हैरी कुछ औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए फिलहाल ब्रिटेन में हैं।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस