लंदन, एएनआइ। गुलाम कश्मीर में पाकिस्तानी फौजों का उत्पीड़न चरम पर है। यहां के निर्वासित नेता अमजद अयूब मिर्जा ने ट्वीट किया है कि पाक की फौज ने नीलम घाटी के नागरिक क्षेत्रों में भारी तोपों को तैनात कर दिया है। यहीं से भारत के सीमावर्ती क्षेत्रों में पाकिस्तान गोलाबारी करता है।

उन्होंने आरोप लगाया कि यहां के युवाओं को पाक फौज भारत के खिलाफ आतंकवादी बनने को मजबूर करती है। उनकी बात न मानने वालों का उत्पीड़न, अपहरण और हत्या तक कर दी जाती है। यहां महिलाओं पर अत्याचार भी सभी सीमाओं को पार कर गया है। इसके विरोध में निरंतर प्रदर्शन हो रहे हैं। जिन्हें बेरहमी से कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। उत्पीड़न करने वालों को सत्ता और सेना दोनों का समर्थन रहता है। पाकिस्तान की सरकार यहां पर स्थानीय लोगों की समस्याओं को हल करने में नहीं, राजनीतिक उद्देश्यों को पूरा करने में पूरी ताकत लगाती है।

उल्लेखनीय है कि नीलम घाटी में पाकिस्तान ने फौज के साथ भारी तोपों की तैनाती कर जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती क्षेत्र में निरंतर गोलाबारी की जा रही है। नागरिक क्षेत्रों में तोपों की तैनाती भी उसकी रणनीति का हिस्सा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस