लंदन, प्रेट्र। भारत पर अगर दोबारा मुंबई जैसा आतंकी हमला होता तो निश्चित रूप से भारतीय सेना पाकिस्तान पर हमला बोल देती। यह बात ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने अपने कार्यकाल के दौरान की यादों को संकलित कर लिखी गई पुस्तक में कही है।

सन 2010 से लेकर 2016 तक ब्रिटेन के प्रधानमंत्री रहे कैमरन के भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और नरेंद्र मोदी, दोनों से अच्छे संबंध रहे। उन्होंने बताया कि संत सरीखे मनमोहन सिंह ने साफ कर दिया था कि मुंबई जैसा आतंकी हमला अगर दोबारा हुआ तो उनके सामने पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के अतिरिक्त कोई विकल्प नहीं होगा।

भारत दौरे पर मनमोहन ने कैमरन से कही थी ये बात

मनमोहन ने यह बात खुद कैमरन से उनके भारत दौरे में कही थी। उल्लेखनीय है कि 2008 के मुंबई हमले के बाद भारत पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के काफी करीब पहुंच गया था। अमेरिका और पश्चिमी देशों के दबाव के बाद पाकिस्तान ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के कई आतंकी कमांडरों को गिरफ्तार किया था।

कैमरन ने बताया कि वह भारत के साथ उपनिवेशवाद की मानसिकता से उबर कर संबंध विकसित करना चाहते थे। दुनिया के सबसे पुराने और सबसे बड़े लोकतांत्रिक देशों के बीच आधुनिक युग में आवश्यकतानुसार सहयोग का सबसे अच्छा तरीका है। इस सिलसिले में भारतीय मूल के ब्रिटिश उद्योगपति हमारे रिश्तों को आगे बढ़ाने के सबसे अच्छे माध्यम बन सकते हैं।

पीएम मोदी के दौरे को भी किया याद

पूर्व प्रधानमंत्री ने अपनी पुस्तक में भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के ब्रिटेन दौरे में वेंबले स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में साथ शिरकत करने की घटना को भी याद किया है। लिखा है कि यह वेंबले स्टेडियम में आयोजित सबसे बड़े कार्यक्रमों में से एक था। यह कार्यक्रम मोदी के स्वागत में ब्रिटेन में रहने वाले भारतीय समुदाय ने 2015 में आयोजित किया था।

यह भी पढ़ें: फ्रांस में दुर्घटनाग्रस्त हुआ F-16 फाइटर जेट, हाई-वोल्टेज तार पर आकर फंसा पायलट का पैराशूट

यह भी पढ़ें: वीर सावरकर से परिवार के संबंधों को लेकर लता मंगेशकर ने कही बड़ी बात, जानिए

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप