लंदन, एएनआइ: बोरिस जानसन (Boris Johnson) ने बुधवार को प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा देने से मना कर दिया है। वित्त मंत्री ऋषि सुनक, स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद (Sajid Javid) व दो जूनियर मंत्रियों के इस्तीफे केझटके के बाद बुधवार को कम से कम 12 और जूनियर मंत्रियों ने बोरिस जानसन सरकार से इस्तीफा दे दिया है। लगातार मंत्रियों द्वारा इस्तीफे दिए जाने के बीच यह कयास लगाया जा रहा था कि बोरिस जानसन प्रधानमंत्री का पद छोड़ सकते हैं, लेकिन जानसन ने पद छोड़ने से साफ इंकार कर दिया है। जानसन ने साफ तौर पर कहा कि दो वरिष्ठ मंत्रियों और दूसरे अधिकारियों द्वारा उनके नेतृत्व के विरोध में अपना इस्तीफा सौंपने के बाद भी उनकी सरकार चलती रहेगी।

जानसन ने ब्रिटिश नेता के रूप में काम करते रहने की कसम खाई

जानसन ने सांसदों से कहा, 'जब आपको एक विशाल जनादेश दिया गया हो तो एक प्रधानमंत्री का काम है कि मुश्किल परिस्थितियों में देश को चलाते रहना और यही मैं करने जा रहा हूं।' उन्होंने कहा, 'हम आगे बढ़ेंगे और जनादेश को पूरा करेंगे, साथ-साथ अगला आम चुनाव भी जीतेंगे।' बता दें कि इस्तीफा देने वाले अंतिम कर्मचारी पर्यावरण मंत्री जो चर्चिल थे, जिन्होंने जानसन द्वारा अपनी सरकार के एक सदस्य के खिलाफ यौन दुराचार के आरोपों के लिए माफी मांगने के बाद इस्तीफा दे दिया था। न्यूयार्क पोस्ट के अनुसार, वरिष्ठ और जूनियर कर्मचारियों के इस्तीफे के बावजूद, जानसन ने ब्रिटिश नेता के रूप में काम करते रहने की कसम खाई। जानसन ने आगे कहा कि वह तभी पद छोड़ेंगे जब सरकार आगे नहीं चल सकेगी। संसद में साप्ताहिक प्रश्नकाल के दौरान सासंदों ने जानसन पर जमकर हमले किए, लेकिन जानसन, लगातार प्रधानमंत्री के पद को छोड़ने पर आपत्ति जाहिर करते रहे। 

मौजूदा हालात के मद्देनजर इस्तीफा नहीं दूंगा: जानसन

इस्तीफा देने वाले मंत्रियों ने साफ तौर पर कहा है कि उनका प्रधानमंत्री बोरिस जानसन (58) के नेतृत्व में भरोसा खत्म हो गया है। सरकार में शामिल कुछ अन्य मंत्री भी उनसे पद छोड़ने के लिए कहने वाले हैं। इस सबके बावजूद जानसन बुधवार को पद छोड़ने के मूड में नहीं दिख रहे है। इससे पहले संसद की एक समिति के सामने पेश होने आए जानसन ने इस्तीफे के बारे में पूछे जाने पर कहा कि देश के मौजूदा हालात और यूरोप के इतिहास में चल रही सबसे बड़ी लड़ाई (यूक्रेन पर रूस का हमला) को देखते हुए फिलहाल वे इस्तीफा नहीं देंगे।

सरकार की मौजूदा टीम काम करने वाली है: जहावी

जानसन ने वरिष्ठ मंत्रियों के खाली पदों को भरना भी शुरू कर दिया है। इराकी अनिवासी मंत्री नदीम जहावी को वित्त मंत्री, जबकि स्टीव बार्कले को स्वास्थ्य मंत्री नियुक्त कर दिया है। ब्रिटिश मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, मौजूदा नियम के तहत जानसन आगामी गर्मियों तक नेतृत्व को चुनौती दिए जाने से सुरक्षित हैं, लेकिन ताकतवर 1922 कमेटी के सदस्य जब चाहें तब नियमों में बदलाव कर सकते हैं। पद संभालने के बाद जहावी ने कहा, 'सरकार की मौजूदा टीम काम करने वाली है।' उन्होंने कैबिनेट सहयोगियों से जानसन के साथ खड़े रहने की अपील की तथा देश की संघर्षरत अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने की प्रतिबद्धता जताई।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री जानसन को भेजे पत्र को ट्विटर पर साझा करते हुए सुनक ने गत दिवस लिखा था, 'जनता उम्मीद करती है कि सरकार सही, गंभीर और सक्षम ढंग से संचालित होगी।' जाविद ने कहा था कि उन्होंने एक के बाद एक सामने आए स्कैंडल के बाद जानसन की राष्ट्रीय हित में शासन करने की क्षमता पर विश्वास खो दिया है।

Edited By: Piyush Kumar