मास्को, एपी। अफगानिस्तान के हालात पर चिंता जाहिर करते हुए रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन (Vladimir Putin)  ने बुधवार को कहा कि युद्धग्रस्त देश में सीरिया और इराक से आतंकी घुस रहे हैं। पुतिन ने इस्लामिक स्टेट  (ISIS) के आतंकियों की ओर इशारा किया जिसे तालिबान गंभीरता से नहीं ले रहा है।  

इसके अलावा राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ उनके संबंध काम चलाऊ और स्थिर हैं। पुतिन ने कहा, 'दोनों नेताओं के संबंध सकारात्मक हैं। इससे दोनों देशों के संबंधों को सामान्य बनाने में मदद मिलेगी।' उन्होंने यह बात अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा सम्मेलन के अंतर्गत आयोजित समूह परिचर्चा में कही।

राष्ट्रपति पुतिन ने कहा, 'रूस यूरोपीय देशों को प्राकृतिक गैस की आपूर्ति करने के लिए तैयार है। इससे वहां ईंधन की कमी को दूर करने में मदद मिलेगी। लेकिन इसके लिए उनका देश निश्चित मूल्य चाहता है।'  पुतिन ने यूरोपीय विशेषज्ञों के उन आरोपों को खारिज किया जिनमें कहा जा रहा है कि रूस गैस आपूर्ति इसलिए धीमी किए हुए है क्योंकि वह गैस मूल्य में बढ़ोतरी करना चाहता है।

इस साल का नोबेल शांति पुरस्कार जीतने वाले पत्रकार दिमित्री मुराटोव के संबंध में पुतिन ने कहा, अगर वह कोई कानून नहीं तोड़ रहे और विदेशी एजेंट के रूप में रूस का कोई नुकसान नहीं कर रहे तो उन्हें लेकर किसी को डरने की जरूरत नहीं है। वह सुकून से रूस में रह सकते हैं।बता दें कि दुनिया में सबसे पहले कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक वी बनाना का दावा करने वाले रूय में कोरोना एक बार फिर सिर उठाने लगा है। यहां 24 घंटे में कोरोना से 986 लोगों की मौत हुई है। यह महामारी की शुरुआत से अब तक की सर्वाधिक दैनिक मृतक संख्या है। रूस में मंगलवार को कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या 973 थी। रूस में संक्रमण के 78 लाख से अधिक मामलों की पुष्टि की जा चुकी है। इसमें से 219000 से अधिक संकमितों की मौत हो गई है। इसी के साथ रूस यूरोप में कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या में शीर्ष पर पहुंच गया है।

Edited By: Monika Minal