मॉस्को, जेएनएनरूस के दूर-दराज के इलाके नोवा जिमिया द्वीप में दर्जनों की तादात में भूखे पोलर बियर्स घुस आए हैं। लिहाजा, लोगों को घरों में बंद रहने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। ऐसी भी खबरें हैं कि भूखे पोलर बियर्स ने कुछ लोगों पर हमला किया है। इसे देखते हुए अधिकारियों ने इलाके में इमरजेंसी लगाते हुए विशेषज्ञों की एक टीम लगाई है, जो बियर्स को वहां से निकाल सकें।

आर्किटक महासागर के पास स्थित द्वीपीय क्षेत्र नोवाया जेमल्या आर्चिपेलोगो में करीब तीन हजार लोग रहते हैं। यहां के लोगों ने मदद के लिए स्थानीय अधिकारियों से अपील की थी, जिसके बाद इलाके से पोलर बियर्स को निकालने के लिए टीम लगाई गई और लोगों की सुरक्षा को देखते हुए इमरजेंसी लगा दी गई है। स्थानीय प्रशासन के प्रमुख जिगन्शा मुशिन ने बताया कि भालू लोगों का पीछा कर रहे हैं।

इलाके के डिप्टी हेड एलेक्जेंडर मिनायेव ने कहा कि लोग डरे हुए हैं और घरों से निकलने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। माता-पिता अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेज रहे हैं। एक फुटेज में देखा जा सकता है कि पोलर बियर्स स्थानीय कचराघर से बचा-कुचा भोजन करने को मजबूर हो गए हैं।

इससे पहले साल 2016 में भी ऐसी ही एक घटना हुई थी। उस वक्त मौसम की जांच करने वाली टीम रिमोट इलाके ट्रिनॉय में दो हफ्ते तक फंसी रही थी। उस दौरान पोलर बियर्स के झुंड ने उन्हें घेर लिया था। बताते चलें कि रूस में पोलर बीयर के शिकार पर प्रतिबंध है इसलिए रिहायशी इलाकों में दिखने पर भी उन्हें मारा नहीं जा सकता। सरकार ने उन्हें शूट करने का लाइसेंस देने से इनकार कर दिया है।

 

Posted By: Arun Kumar Singh