मॉस्को, स्पुतनिक/एएनआइ। Coronavirus Impact, कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच रूस ने अपने यहां होने वाले दो बड़े शिखर सम्मेलन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिए हैं। क्रेमलिन ने बुधवार(27 मई) को कहा कि रूस में जुलाई में आयोजित होने वाले ब्रिक्स और शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन स्थगित कर दिए गए हैं। इसकी नई तारीखों का ऐलान बाद में कोरोना वायरस महामारी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए किया जाएगा।

इन शिखर सम्मेलनों की तैयारियों से जुड़े एक उच्च पदस्थ सूत्र ने हाल ही में न्यूज़ एजेंसी स्पुतनिक को बताया कि रूस ने एससीओ शिखर सम्मेलन को स्थगित करने का फैसला किया है, यह कहते हुए कि इसे बाद में रखा जा सकता है।

क्रेमलिन ने एक बयान में कहा कि कोरोना वायरस महामारी और अस्थायी प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए आयोजन समिति ने बाद में ब्रिक्स नेताओं और एससीओ परिषद सत्र की बैठक स्थगित करने का फैसला किया है, जो पहले सेंट पीटर्सबर्ग में 21-23 जुलाई के बीच आयोजित होने वाली थी।

क्रेमलिन ने आगे कहा कि शिखर सम्मेलन की नई तारीखों पर निर्णय भागीदार देशों में महामारी की स्थितियों के विकास और सामान्य रूप से दुनिया में चल रही परिस्थितियों पर निर्भर करेगा।

ब्रिक्स(BRICS) ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका का एक संयुक्त समूह है। शंघाई सहयोग संगठन(एससीओ) का गठन 2001 में हुआ था। चीन, भारत, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, पाकिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान को एक साथ लाता है। अफगानिस्तान, बेलारूस, ईरान और मंगोलिया एससीओ पर्यवेक्षक हैं, जबकि अजरबैजान, अर्मेनिया, कंबोडिया, नेपाल, श्रीलंका और तुर्की संवाद सहयोगी हैं।

ब्रिक्स बैंक ने भारत को दिया एक अरब डॉलर का कर्ज

ब्रिक्स देशों के न्यू डेवलपमेंट बैंक (New Development Bank) ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए भारत को एक अरब डॉलर की आपातकालीन सहायता कर्ज राशि (emergency assistance loan) दी है। इस रकम का इस्तेमाल महामारी से होने वाले मानवीय, सामाजिक और आर्थिक नुकसान (social and economic losses) को कम करने के लिए किया जाएगा। शंघाई स्थित एनडीबी (Shanghai based NDB) की स्थापना ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन, दक्षिण अफ्रीका) ने साल 2014 में की थी। मौजूदा वक्‍त में इसका नेतृत्व दिग्गज भारतीय बैंकर केवी कामथ (KV Kamath) कर रहे हैं।  

Posted By: Shashank Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस