व्लादिवोस्तोक, एजेंसी। PM Modi in Russia, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अपने दो दिवसीय रूस के दौरे पर पहुंचे। इस दौरे पर पीएम मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'ऑर्डर ऑफ सेंट ऐंड्रयू द अपोस्टल' से सम्मानित किया जाएगा। इस दौरान उन्होंने आज रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ 20वें भारत-रूस वार्षिक सम्मेलन में भाग लिया। लगभग 2 घंटे तक चले इस सम्मेलन में दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच कई समझौते हुए। आइए नजर डालते हैं दोनों देशों के बीच समझौते पर।

डिफेंस स्पेयर पार्ट्स को लेकर करार
इस दौरान रक्षा क्षेत्र में रूसी उपकरणों के स्पेयर पार्ट्स को लेकर दोनों देशों के बीच करार हुआ है। रक्षा जैसे क्षेत्र में रूसी उपकरणों के स्पेयर पार्ट्स भारत में दोनों देशों के जॉइंट वेंचर द्वारा बनाने के लिए आज हुआ समझौता उद्योग को बढ़ावा देगा।

चेन्नई और व्लादिवोस्तोक के बीच समुद्री रूट
भारत और रूस के बीच कनेक्टिविटी को बढ़ाने के लिए चेन्नई और व्लादिवस्तोक के बीच मेरिटाइम रूट का प्रस्ताव भी किया गया है।

अंतरिक्ष में भारत रूस मिलकर करेंगे काम
दोनों देशों के बीच रक्षा, सुरक्षा, हवाई और समुद्री कनेक्टिविटी से लेकर न्यूक्लियर एनर्जी, व्यापार और निवेश संबंधी विषयों पर चर्चा हुई। पीएम मोदी ने विभिन्न भारत और रूस के बीच साझेदारी की चर्चा करते हुए कहा कि आज हमारे बीच डिफेंस, न्यूक्लियर एनर्जी, स्पेस, बिजनस टु बिजनस समेत कई क्षेत्रों में सहयोग की नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए सहमति बनी है।

एलएनजी सप्लाइ को लेकर करार
भारत और रूस के बीच एलएनजी की आपूर्ति के लिए करार हुआ है। इस समझौते के तहत नोवाटेक भारत, बांग्लादेश और अन्य बाजारों में एलएनजी की बिक्री के लिए भविष्य के एलएनजी टर्मिनल और संयुक्त उद्यम के गठन में निवेश करेगी।

ये भी पढ़ें- PM Modi in Russia: पीएम का पाक पर निशाना, कहा- आंतरिक मामले में दखल बर्दाश्त नहीं
ये भी पढ़ें:
 Video: रूसी जहाज पर दिखी पीएम मोदी और पुतिन के दोस्‍ती की झलक, पाक को संदेश
ये भी पढ़ें:  छोटी ही सही लेकिन बेहद खास है पीएम मोदी की यह रूस यात्रा, कई मुद्दों पर होंगी चर्चा

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस