मॉस्को, पीटीआइ। अमेरिका के साथ प्रगाढ़ हो रहे भारत के संबंधों के बीच मॉस्को पहुंचे विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने गुरुवार को रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई याबकोव से मुलाकात की। द्विपक्षीय संबंधों में विकास के लिहाज से भारतीय विदेश सचिव ने इस मुलाकात को सफल बताया है। बैठक में दोनों के बीच द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मसलों पर विस्तार से चर्चा हुई। साल 2021 की अपनी पहली विदेश यात्रा पर रूस पहुंचे श्रृंगला ने ब्रिक्स चेयरमैन के रूप में भारत की प्राथमिकताओं के बारे में भी रूसी उप विदेश मंत्री को बताया।

भारत ब्रिक्स संगठन का 2012 और 2016 के बाद तीसरी बार चेयरमैन बना है। इस संगठन में भारत के अतिरिक्त रूस, चीन, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका भी शामिल हैं। यह दुनिया की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाले देशों का संगठन है। इससे पहले बुधवार को श्रृंगला ने रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव और उप विदेश मंत्री इगोर मोरगुलोव से मुलाकात की थी। दोनों नेताओं के साथ बैठक को विदेश सचिव ने सफल बताया था।

इन बैठकों में दोनों देशों के खास रणनीतिक संबंध को और मजबूत बनाने पर भी चर्चा हुई। यात्रा के दौरान श्रृंगला ने रूसी विद्वानों और रणनीतिक विशेषज्ञों के साथ द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की। इस दौरान श्रृंगला ने रूस के साथ भारत के खास तरह के द्विपक्षीय संबंधों के बारे में विस्तार से बताया। कहा कि दोनों देशों के विश्वासपूर्ण रिश्ते लंबे समय की बातचीत और अनुभवों के आधार पर बने हैं।

इससे पहले बुधवार को रूस की डिप्लोमेटिक एकेडमी में भारतीय विदेश सचिव ने कहा था कि उनकी रूसी मंत्री के साथ बहुत अच्छी वार्ता हुई है। इसमें दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की गई। इसमें आने वाले समय में बड़े नेताओं की यात्राओं का मसला भी शामिल है। विदेश मंत्री लावरोव से मुलाकात में श्रृंगला ने भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर का शुभकामना संदेश भी दिया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021