इस्‍लामाबाद, एएनआइ। हालिया दिनों में आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिका और पाकिस्‍तान के द्विपक्षीय संबंध काफी तनावपूर्ण रहे हैं। इसे सुधारने के लिए गुरुवार को अमेरिका के एक उच्‍च-स्‍तरीय प्रतिनिधिमंडल ने पाकिस्‍तान का दौरा किया।

दोनों देश आतंकवाद से निपटने के लिए सभी स्‍तर पर द्विपक्षीय वार्ता जारी रखने और अपने संबंधों को मजबूत बनाने को लेकर सहमत हुए। दक्षिण एशिया के लिए राष्‍ट्रीय सुरक्षा परिषद की वरिष्‍ठ निदेशक लिजा कर्टिस ने अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्‍व किया। उन्‍होंने पाक विदेश सचिव तहमिना जंजुआ और सेना प्रमुख कमर जावेद बाज्‍वा से बातचीत की।

आपको एक दिलचस्‍प बात ये बता दें कि गुरुवार को ही पाक सेना ने एक कनाडा नागरिक, उसकी अमेरिकी पत्‍नी और तीन बच्‍चों को आतंकियों के चंगुल से बचाया। पांच साल पहले अफगानिस्‍तान में उन्‍हें अगवा कर लिया गया था। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने पाकिस्‍तान के साथ संबंध के लिए इसे एक 'सकारात्‍मक क्षण' बताया।

इससे पहले दक्षिण एशिया और अफगानिस्‍तान पर नई अमेरिकी नीति का एलान करने के दौरान ट्रंप ने आतंकियों को पनाह देने के लिए पाकिस्‍तान की कड़ी आलोचना की थी और उसके बाद भी कई मौकों पर पाकिस्‍तान पर निशाना साधा था।

पाक विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि दक्षिण एशिया और अफगानिस्‍तान पर अमेरिकी रणनीति के मद्देनजर दोनों पक्षों ने संबंध की समीक्षा की और साझा हित के सभी मामलों पर चर्चा जारी रखने पर सहमति जताई।

यह भी पढ़ें: पनामा पेपर्स मामले में आज कोर्ट में पेश नहीं होंगे नवाज शरीफ, हो सकती है जेल






 

Posted By: Pratibha Kumari