मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

वाशिंगटन, एएनआइ। अमेरिका ने पाकिस्तान में मौजूद आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (Tehrik-e-Taliban Pakistan, TTP) के नेता नूर वली (Noor Wali) को वैश्विक आतंकी घोषित किया है। यह आतंकी संगठन कई आत्मघाती धमाकों और सैकड़ों नागरिकों के कत्‍लेआम के लिए जिम्मेदार है। अमेरिका टीटीपी को पहले ही वैश्विक आतंकवादी समूह (Specially Designated Global Terrorist, SDGT) के रूप में नामित कर चुका है। नूर वली, मुफ्ती नूर वली मसूद (Mufti Noor Wali Mehsud) के नाम से भी चर्चित है। 

नूर वली को जून 2018 में पूर्व टीटीपी प्रमुख मुल्ला फजलुल्लाह (Mullah Fazlullah) की मृत्यु के बाद टीटीपी का सरगना बनाया गया था। नूर वली के नेतृत्‍व में टीटीपी पाकिस्‍तान में कई बड़े हमलों की जिम्‍मेदारी ले चुका है। उसे वैश्विक आतंकी के तौर पर नामित करने का फैसला अमेरिका के विदेश विभाग द्वारा लिया गया है। अमेरिका ने कहा है कि टीटीपी अल-कायदा जैसे बड़े आतंकी संगठन से जुड़ा हुआ है। बयान में कहा गया है कि टीटीपी फंडिंग से लेकर आतंकियों की भर्ती करने जैसे कार्यों में अल-कायदा (Al-Qaida) की मदद करता है।  

बता दें कि अभी हाल ही में भारत ने नए आतंकवाद निरोधक कानून (New UAPA Bill) के तहत जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर, लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज मोहम्मद सईद, जकी-उर-रहमान लखवी और दाऊद इब्राहिम को आतंकवादी घोषित कर दिया था। अमेरिका ने भारत के इस कदम की तारीफ की थी। बता दें कि हाफ‍िज सईद का साल 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमलों का मास्‍टर माइंड था। वहीं मसूद अजहर इस साल फरवरी में हुए पुलवामा हमलों का जिम्मेदार था। इसके अलावा उसने 2001 में संसद हमले को भी अंजाम दिया था।

 

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप