इस्लामाबाद, प्रेट्र। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह मामले की सुनवाई कर रही विशेष अदालत ने सोमवार को कहा कि नौ अक्टूबर से इस केस की रोजाना सुनवाई होगी। नवंबर, 2007 में देश पर आपातकाल थोपने के आरोप में वर्ष 2013 में तत्कालीन नवाज शरीफ सरकार ने मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दायर किया था।

मुशर्रफ को कोर्ट में कैसे पेश किया जाएगा

जस्टिस यावर अली की अध्यक्षता वाला तीन सदस्यीय ट्रिब्यूनल इस मामले की सुनवाई कर रहा है। ट्रिब्यूनल ने कहा, 'केस को जल्द अंजाम तक पहुंचाना है। इसलिए नौ अक्टूबर से इसमें रोज सुनवाई होगी।' जस्टिस अली ने गृह मंत्रालय से यह भी पूछा कि मुशर्रफ को कोर्ट में कैसे पेश किया जाएगा?

मुशर्रफ भगोड़ा घोषित

मेडिकल इलाज का बहाना बनाकर मुशर्रफ 18 मार्च, 2016 को दुबई भाग गए थे। उन्होंने इलाज के बाद वतन लौटने की प्रतिबद्धता जताई थी। इसी शर्त पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर उन्हें देश छोड़ने की इजाजत दी गई थी। बाद में वतन नहीं लौटने पर विशेष अदालत ने उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया। मुशर्रफ ने सुरक्षा कारणों का हवाला देकर देश लौटने से इन्कार कर दिया है।

 

Posted By: Bhupendra Singh