लाहौर, पीटीआइ। मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग (एमएमएल) पाकिस्तान में राजनीतिक दल के तौर पर पंजीकृत नहीं किए जाने से बौखला गई है। उसने सोमवार को पाकिस्तान के चुनाव आयोग पर पंजीकरण में देरी करने और कोर्ट की अवमानना का आरोप लगाया। पार्टी का कहना है कि वह चुनाव आयोग के खिलाफ कोर्ट जाएगी।

सईद की पार्टी इस साल होने वाले आम चुनाव के लिए पहले ही अभियान शुरू कर चुकी है। पाकिस्तान में 27 जुलाई को संसदीय चुनाव कराए जाने की संभावना जताई गई है। एमएमएल के अध्यक्ष सैफुल्ला खालिद ने कहा, 'हम इस्लामाबाद हाईकोर्ट में चुनाव आयोग के खिलाफ अवमानना की याचिका दायर करने जा रहे हैं। आयोग की कार्यशैली हाईकोर्ट के फैसले का उल्लंघन है। कोर्ट ने बीते मार्च में चुनाव आयोग के उस फैसले को खारिज कर दिया था, जिसमें उसने एमएमएल का पंजीकरण करने से इन्कार कर दिया था।

अमेरिका ने घोषित किया है विदेशी आतंकी संगठन
अमेरिका ने पिछले महीने एमएमएल को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया था। उसने कहा था कि इसका गठन प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के सदस्यों से किया गया है। यह कथित पार्टी अपने चुनावी बैनरों में खुलेआम सईद का प्रचार कर रही है। अमेरिका सईद को पहले ही आतंकी घोषित कर चुका है, उस पर एक करोड़ डॉलर (करीब 68 करोड़ रुपये) का इनाम रखा गया है।

 

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप