इस्लामाबाद, एपी। अफगानिस्तान के तालिबान शासकों ने रविवार को देश की सभी महिला टीवी न्यूज एंकरों के लिए आदेश जारी किया है। महिला एंकरों से समाचार प्रसारण के दौरान अपना चेहरा ढककर रखने को कहा गया है। कट्टरपंथी तालिबान के इस कदम की मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने आलोचना की है।

गुरुवार को आदेश की घोषणा होने के बाद कुछ ही न्यूज चैनलों ने उसका पालन किया, लेकिन रविवार को अधिकांश महिला एंकर चेहरा ढककर आईं। तालिबान के धार्मिक मामलों का मंत्रालय आदेश लागू करने में जुट गया है। सूचना एवं संस्कृति मंत्रालय ने कहा कि इस आदेश पर कोई समझौता नहीं होगा।

इससे पहले 1996-2001 के दौरान सत्ता में रहते तालिबान ने महिलाओं पर लगाए थे प्रतिबंध

टोलो न्यूज में काम करने वाली न्यूज एंकर सोनिया नाजी ने कहा, 'हमें चेहरा ढकने के लिए बाध्य किया गया है जिससे अपना कार्यक्रम प्रस्तुत करते समय हमारे सामने परेशानी खड़ी हो सकती है।' इससे पहले 1996-2001 के दौरान सत्ता में रहते तालिबान ने महिलाओं पर कई प्रतिबंध लगाए थे। उन्होंने बुर्का पहनने के लिए बाध्य किया और उन्हें शिक्षा, सार्वजनिक जीवन से दूर कर दिया था। इस बार भी अफगानिस्तान में महिलाओं पर एक के बाद एक प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं और उन्हें शिक्षा से अलग किया जा चुका है।

पाकिस्तानी ने पत्नी, बेटी, सास की हत्या के बाद की आत्महत्या

वहीं, दूसरी ओर पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी व्यक्ति ने टेक्सास प्रांत के एक छोटे से कस्बे में अपनी पत्नी, चार साल की बेटी और सास की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली। गुरवार सुबह गोली चलने की जानकारी मिलने के बाद कानून प्रवर्तन अधिकारी चैंपियन फारेस्ट इलाके में विंटेज पार्क अपार्टमेंट पहुंचे और एक आवास के भीतर चारों को मृत पाया।

यह भी पढ़ें : Sri Lanka Crisis: श्रीलंकाई संसद को अधिक शक्ति देने पर कल निर्णय लेगी कैबिनेट, राष्ट्रपति की शक्तियों में की जाएगी कटौती

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan