पेशावर, प्रेट्र। कोरोना वायरस जांच में पॉजिटिव पाए गए एक सिख डॉक्टर की मौत हो गई। डॉ. फाग चंद सिंह पेशावर में एक निजी अस्पताल में पिछले चार दिनों से वेंटीलेटर पर थे। सोमवार को उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया।

डॉ. सिंह ने 1980 में खैबर मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री ली थी। पूर्व राष्ट्रपति जिया-उल-हक ने उन्हें स्वर्ण पदक से सम्मानित किया था। खैबर-पख्तूनख्वा में नौशेरा अस्पताल में उन्होंने चिकित्सा अधिकारी के रूप में काम शुरू किया और करीब तीस साल से यहां रह रहे थे। चार साल पहले चिकित्सा उपाधीक्षक के पद से सेवानिवृत्त हो चुके थे। उनका पैतृक गांव पीरबाबा बादशाह कालाय बुनेर जिले में है। डॉ. सिंह अपनी ईमानदारी के लिए जाने जाते थे। वह गरीबों का मुफ्त इलाज करते थे।

पाकिस्तान में 72 हजार के पार हुई कोरोना संक्रमितों की संख्या

बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस (COVID-19) के मामलों की संख्या 72,000 के पार हो गई है। देश में मई में कोरोना वायरस के लगभग 52,000 मामले सामने आए। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 2,964 मामले सामने आए और 60 लोगों की मौत हो गई। देश के स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जानकारी दी है। इसके साथ ही यहां मरीजों की संख्या 72,460 हो गई है और अब-तक 1,543 लोगों की मौत हो गई है। वहीं,  26,083 मरीज ठीक हो गए हैं। देश में अब तक 5,61,136 टेस्ट हुए हैं। पिछले 24 घंटे में 14,398 टेस्ट हुए है। 

पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, सिंध में 28,245 मामले, पंजाब में 26,240, खैबर-पख्तूनख्वा में 10,027, बलूचिस्तान में 4,393, इस्लामाबाद में 2,589, गिलगित-बाल्टिस्तान में 711, और गुलाम कश्मीर (PoK) में  अब तक 255 मामले दर्ज किए गए हैं। 

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री इमरान खान ने आर्थिक संकट का हवाला देते हुए कहा था कि पाकिस्तान विभिन्न व्यवसायों को खोलने की अनुमति देकर चरणबद्ध तरीके से अपने देशव्यापी लॉकडाउन में ढील देना शुरू कर देगा, जिसे मार्च के अंत में देश में लागू किया गया था।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस