इस्‍लामाबाद, आइएएनएस। पाकिस्‍तान के  पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ  (Nawaz Sharif) को इलाज के लिए लंदन से अमेरिका ले जाया जाएगा। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार, उन्‍हें आगामी 16 दिसंबर को आगे के इलाज के लिए अमेरिका जाना होगा। पाकिस्‍तानी मीडिया के अनुसार, गत 20 नवंबर से नवाज शरीफ अपने बेटे हसन नवाज के लंदन स्थित एवेनफील्‍ड फ्लैट में में रह रहे हैं।

गत 19 नवंबर को उन्‍हें इलाज के लिए एयर एंबुलेंस के जरिये पाकिस्तान से लंदन ले जाया गया था। भ्रष्टाचार के मामले में जेल की सजा काट रहे शरीफ को लाहौर हाई कोर्ट ने चार सप्ताह के लिए लंदन ले जाने की इजाजत दी थी। कोर्ट ने यह भी कहा था कि चार सप्ताह की अवधि को डॉक्टरों की सिफारिश पर बढ़ाया भी जा सकता है।

 लंदन में हुए मेडिकल टेस्ट से पता चला है कि प्लेटलेट्स कम होने के कारण शरीफ के मस्तिष्क के एक हिस्से में रक्त की आपूर्ति में बाधा आ रही है। इसके इलाज के लिए जिस तरह के ऑपरेशन की जरूरत है, वह सुविधा केवल अमेरिका के बोस्टन में उपलब्ध है। शरीफ के निजी चिकित्सक अदनान खान ने बताया कि पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के कई नेता लंदन में हैं, लेकिन किसी को भी शरीफ से मिलने की अनुमति नहीं दी गई है।

इम्‍यून सि‍स्‍टम डिसऑर्डर (Immune System Disorder) की वजह से नवाज शरीफ का प्‍लेटलेट काउंट (Platelet Count) काफी कम है। सूत्रों की माने तो इसके लिए लंदन में इलाज उपलब्‍ध नहीं है और शरीफ को अमेरिका जाना होगा। 

भ्रष्‍टाचार मामले में नवाज शरीफ को सात साल कैद की सजा दी गई है। लेकिन इलाज के लिए इस्‍लामाबाद हाई कोर्ट ने 27 अक्‍टूबर को उन्‍हें 8 हफ्ते के लिए रिहा किया है। बाद में लाहौर हाई कोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया कि एक्जिट कंट्रोल लिस्‍ट से उनका नाम चार हफ्ते के लिए हटा दिया जाए ताकि वे देश से बाहर अपना इलाज करा सकें। बता दें कि देश से बाहर इलाज के लिए कई मेडिकल बोर्ड ने सलाह दी थी।

वहीं इस्लामाबाद हाई कोर्ट में नवाज शरीफ की अल-अजीजिया मामले में सजा के खिलाफ अपील सुनने के लिए 18 दिसंबर की तारीख तय की है। वहीं देश के विज्ञान व तकनीक मंत्री फवाद चौधरी व रेल मंत्री शेख रशीद ने नवाज शरीफ की बीमारी पर सवाल उठाया। फवाद चौधरी ने कहा कि बीमारी के बहाने वे पाकिस्‍तान से बाहर निकल गए। वहीं, शेख रशीद ने कहा कि नवाज शरीफ अपने साथ विशेष विमान में 82 बक्से लेकर गए हैं, अब शायद ही पाकिस्‍तान वापस आए। 

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस