लाहौर (जेएनएन)। पाकिस्‍तान मुस्‍लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के शीर्ष नेतृत्‍व ने लंदन की बैठक में निर्णय लिया कि 2018 के चुनावों के बाद यदि पार्टी अध्‍यक्ष नवाज शरीफ को अयोग्‍य ही माना जाता है तब शाहबाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद के उम्‍मीदवार के तौर पर पेश किया जाएगा।

सोमवार को नवाज शरीफ की अध्‍यक्षता में हुए इस बैठक में प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्‍बासी पंजाब के मुख्‍यमंत्री शाहबाज शरीफ व फेडरल मंत्री इशाक डार, ख्‍वाजा आसिफ व अहसन इकबाल शामिल हुए। इसके लिए 60 फीसद लोगों ने प्रसन्‍नता जाहिर करते हुए निर्णय को समर्थन दिया है।

वहीं सितंबर माह में यूएस इंस्‍टीट्यूट के ग्‍लोबल स्‍ट्रैटजिक पार्टनर एक सर्वे के अनुसार, पाकिस्‍तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्‍यक्ष इमरान खान के लिए देश के 4,540 में से 47 फीसद लोगों ने समर्थन जताया था।

यह भी पढ़ें: इन वजहों से पाकिस्तान बन जाएगा और खतरनाक, पूरी दुनिया के लिए बन सकता है सिरदर्द

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस