इस्लामाबाद, एएनआइ। सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के एक सहयोगी दल ने प्रधानमंत्री इमरान खान पर नवाज शरीफ के चक्कर में आम लोगों की अनदेखी करने का आरोप लगाया है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-कायद का आरोप है कि इमरान खान पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को वापस लाने में समय बर्बाद कर रहे हैं, जिस वजह से आम लोगों के मुद्दों की अनदेखी हो रही है। पार्टी ने कहा अगर इसी तरह चलता रहा तो देश का ऊपर वाला ही मालिक है।

केंद्र और पंजाब में सत्तारूढ़ इमरान खान के नेतृत्व वाली पीटीआई की एक प्रमुख सहयोगी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-कायद ने कहा है कि, सरकार को नवाज शरीफ को वापस लाने के प्रयासों में अपना समय बर्बाद करना बंद करना चाहिए। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून में छपी खबर के अनुसार, पीएमएल-क्यू के अध्यक्ष चौधरी शुजात हुसैन ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि सरकार नवाज को वापस नहीं ला पाएगी, जो 2019 से लंदन में रह रहे हैं। शुजात ने बयान में कहा, अगर सरकार जनता के मुद्दों की अनदेखी करती रही, तो ऊपर वाला ही इस देश की रक्षा कर सकता है।

बता दें कि, नवंबर 2019 में नवाज शरीफ ने पाकिस्तान छोड़ दिया था, और इमरान सरकार की मंजूरी के बाद लंदन में चिकित्सा उपचार के लिए चले गए थे। हालांकि 71 साल के नवाज शरीफ पाकिस्तान में भ्रष्टाचार के दो मामलों में दोषी ठहराए गए हैं। नवंबर, 2019 से ही नवाज शरीफ लंदन की जेल में हैं। लाहौर हाईकोर्ट की तरफ से नवाज शरीफ को मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए 4 हफ्तों के लिए लंदन जाने की अनुमति मिली थी। पिछले साल दिसंबर में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के आंतरिक सलाहकार शहजाद अकबर ने कहा था कि इस्लामाबाद उनके प्रत्यर्पण मामले को सक्रिय रूप से आगे बढ़ा रहा है। अकबर ने यह भी कहा था कि शरीफ एक दोषी हैं और ब्रिटेन के कानूनों के अनुसार उन्हें विजिट वीजा पाने का भी अधिकार नहीं है।

Edited By: Neel Rajput