इस्लामाबाद, प्रेट्र। पाकिस्तान में प्रधानमंत्री इमरान खान को इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने झटका दिया है। उनके खास समझे जाने वाले नईम बुखारी के सरकारी पाकिस्तान टेलीविजन (पीटीवी) के चेयरमैन पद पर कार्य करने पर रोक लगा दी है।

सुप्रीम कोर्ट के वकील, राजनेता और पूर्व टीवी होस्ट बुखारी को बीते नवंबर में पीटीवी का प्रमुख बनाया गया था। आलोचकों ने कहा, बुखारी को प्रधानमंत्री इमरान खान से नजदीकी का फायदा मिला। इन्हीं में से एक अर्सलान फारूख ने बुखारी की नियुक्ति को इस्लामाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी। कहा कि बुखारी की नियुक्ति में अदालत के कई पूर्व फैसलों का उल्लंघन किया गया है। गुरुवार को हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश अतहर मिनाल्ला ने मामले में हुई बहस को सुनने के बाद बुखारी के पीटीवी के चेयरमैन पद पर कार्य करने पर रोक लगा दी। कहा कि इसी तरह के मामले में 2018 में सुप्रीम कोर्ट ने जो आदेश दिया था, बुखारी की नियुक्ति उसका उल्लंघन है। बुखारी की 65 वर्ष की उम्र का संज्ञान न लेते हुए सरकार ने उन्हें नियुक्त कर दिया।

इमरान के पार्टी एजेंटों ने अमेरिकी कंपनियों से धन लिया

प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ ने अपने एजेटों पर दो अमेरिकी कंपनियों से गलत तरीके से धन लेने का आरोप लगाया है। ये एजेंट अमेरिका में रहते हैं। अवैध विदेशी धन के मामले में तहरीक ने नवंबर 2014 में अकबर एस बाबर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। वह पार्टी के संस्थापक लोगों में से एक हैं। उन पर पार्टी के चंदे में व्यापक गड़बड़ी करने के आरोप हैं। अवैध चंदे के मामले में पाकिस्तान का चुनाव आयोग भी तहरीक-ए-इंसाफ के खातों की जांच कर रहा है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप