इस्लामाबाद, पीटीआइ। पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर कराची में टमाटर की कीमत मंगलवार को कई कारकों के कारण 400 रुपये प्रति किलोग्राम के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गई। टमाटर के आयात पर प्रतिबंध सहित कई कारण है जिसकी वजह से दाम चढ़ा है। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। डॉन न्यूज के मुताबिक, पाकिस्तान सरकार ने पिछले हफ्ते ईरान से 4,500 टन टमाटर आयात करने की अनुमति जारी की थी, लेकिन इसके आगमन से बाजार में तेजी नहीं आई, जिसके परिणामस्वरूप बढ़ती मांग के कारण दरों में लगातार बढ़ोतरी हुई।

रिपोर्ट के मुताबिक, एक व्यापारी ने बताया कि 4,500 टन में से, केवल 989 टन ही पाकिस्तानी बाजारों में पहुंचा। बता दें कि कराची में टमाटर की कीमत 300 रुपये प्रति किलोग्राम से बढ़कर 400 रुपये प्रति किलोग्राम हो जाने से झटका लगा है। इस वर्ष टमाटर की फसलों की कमी के लिए फलों की उच्च कीमत को दोषी ठहराया जा रहा है। एक व्यापारी ने कहा, 'अभी ईरान और स्वात के टमाटर कराची में बिक रहे हैं और इसकी कमी है, जिसके कारण कीमतों में उछाल आया है।' इस महीने की शुरुआत में, टमाटर की आधिकारिक खुदरा दर 117 रुपये प्रति किलोग्राम थी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि मूल्य वृद्धि के लिए संघीय सरकार को दोषी ठहराया जा सकता है क्योंकि सरकार द्वारा किसी भी व्यापारी द्वारा मुफ्त आयात की अनुमति देने के बजाय कुछ लोगों के लिए आयात को प्रतिबंधित कर दिया है। नतीजतन, जितना टमाटर बचा था, वो पहले ही बुक था और बेच दिया गया। फलाही अंजुमन थोक सब्जी बाजार के अध्यक्ष हाजी शाहजहां ने कहा कि इससे पहले खुले आयात ने टमाटर की कीमतों को स्थिर रखा हुआ था।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप