इस्लामाबाद, पीटीआइ। पाकिस्तान को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के हाल ही में दिए एक बयान से मिर्ची लग गई, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान को धमकी देते हुए कहा था कि अगर पाकिस्तान नहीं सुधरता है तो तो कोई भी शक्ति पाकिस्तान को आगे टूटने से नहीं रोक सकती। बता दें कि पाकिस्तान ने राजनाथ सिंह के इस बयान की निंदी की है। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा, 'हम भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा हरियाणा में चुनावी रैलियों के दौरान दिए गए हालिया बयानों की निंदा करते हैं।'

रविवार को हरियाणा में एक रैली के दौरान, सिंह ने पाकिस्तान से कहा कि वह कश्मीर को भूल जाए और आतंकवाद के खिलाफ एक 'ईमानदार लड़ाई' लड़े, यह चेतावनी देते हुए कि कोई भी शक्ति पाकिस्तान को आगे टूटने से नहीं रोक सकती है यदि यही स्थिति बनी रहती है तो। विदेश कार्यालय ने राजनाथ सिंह के इस बयान को भड़काऊं बताया। राजनाथ के साथ भाजपा को भी घेरा।

एफओ(विदेश कार्यालय) ने एक बयान में कहा, 'भारतीय रक्षा मंत्री को पाकिस्तान जैसे देश के विभाजन की धमकी देना बेहद गैर जिम्मेदाराना है। हमें यकीन है कि विश्व समुदाय संज्ञान लेगा।' साथ ही उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि सुरक्षा बल और पाकिस्तान के लोग किसी भी बुरे खतरे के खिलाफ देश की रक्षा करने के लिए तैयार है। वहीं, साथ ही एफओ ने आतंकवाद से निपटने के लिए मदद की पेशकश को भी खारिज कर दिया।

बता दें कि राजनाथ ने कहा था कि अगर पड़ोसी देश उसके यहां पनप रहे आतंकवाद को लेकर गंभीर है तो भारत उसकी मदद करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो भारत इस संबंध में अपने सशस्त्र बलों को पाकिस्तान भेजने लिए भी तैयार है।

उन्होंने कहा था कि आपने 1947 में भारत को दो-राष्ट्र सिद्धांत के भाग के रूप में दो भागों में विभाजित किया, लेकिन 1971 में, आपका देश फिर से दो टुकड़ों में विभाजित हो गया।... और अगर यही हाल रहा तो कोई भी शक्ति पाकिस्तान को आगे टूटने से नहीं रोक सकती है। बता दें कि भारत सरकार द्वारा 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से Article 370 हटाए जाने के बाद से ही तनाव जारी है।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप