इस्लामाबाद, प्रेट्र। क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान अब 18 अगस्त को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) के नेता फैजल जावेद ने शुक्रवार को यह दावा किया। इस बीच इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने पाक के भावी पीएम से मुलाकात कर उन्हें चुनावों में जीत की बधाई दी।

इस दौरान बिसारिया ने सीमापार से घुसपैठ और आतंकवाद का मुद्दा उठाया। उन्होंने इसको लेकर भारत की चिंता से इमरान को अवगत भी कराया। बिसारिया ने खान को भारतीय क्रिकेटरों के हस्ताक्षर वाला बैट भी भेंट किया। पीटीआइ के सीनेटर फैजल के अनुसार, 18 अगस्त को होने वाले इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के लिए भारतीय क्रिकेटरों कपिल देव, नवजोत सिंह सिद्धू और सुनील गावस्कर को आमंत्रित किया गया है।

25 जुलाई को हुए आम चुनाव में इमरान की पार्टी पीटीआइ ने सबसे अधिक 116 सीटें जीती थीं। बीते सोमवार को पार्टी ने उन्हें संसदीय दल का नेता व प्रधानमंत्री पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया। पहले उनके 11 अगस्त को ही प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने की संभावना थी। लेकिन चुनाव आयोग ने पांच संसदीय सीटों से जीते इमरान खान के दो क्षेत्रों से निर्वाचन के नोटिफिकेशन को रोक दिया था। इस कारण शपथ ग्रहण की तारीख आगे बढ़ानी पड़ी।

इमरान पर मतपत्र की गोपनीयता का उल्लंघन करने का आरोप था। हालांकि इस मसले पर चुनाव आयोग ने इमरान के बिना शर्त माफीनामे को शुक्रवार को स्वीकार कर लिया। इसके बाद इमरान खान के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने का रास्ता पूरी तरह साफ हो गया है।

बता दें कि 342 सीटों वाली नेशनल असेंबली में 172 सांसदों का समर्थन जुटाने वाली पार्टी सरकार बना सकती है। पीटीआइ के प्रवक्ता फवाद चौधरी ने बताया, 'खान को 180 सांसदों का समर्थन हासिल हैं। वह संसद में पहले दौर के चुनाव में ही अपना बहुमत साबित कर देंगे।'

 

By Arun Kumar Singh