इस्लामाबाद, पीटीआइ। पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा (LoC) पर भारतीय सेना की ओर से कथित संघर्षविराम उल्लंघन को लेकर सोमवार को भारतीय उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया को तलब किया है। पाकिस्तान ने ऐसा एक हफ्ते में चौथी बार किया है। 

मोहम्मद फैसल ने निंदा की
पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने बताया कि दक्षिण एशिया और दक्षेस मामलों के महानिदेशक मोहम्मद फैसल ने 18 अगस्त को बगैर की वजह के हॉट स्प्रिंग और चिरिकोट सेक्टरों में किए गए संघर्षविराम उल्लंघन की निंदा की। साथ ही उनका दावा है कि गोलीबारी में दो बुजुर्ग नागरिक मारे गए और सात साल का एक लड़का गंभीर रूप से घायल हो गया है।

फैसल के अनुसार वर्ष 2017 से संघर्षविराम उल्लंघन में बढ़ोतरी
फैसल पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता भी हैं। फैसल के अनुसार भारत की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाओं में वर्ष 2017 से अभूतपूर्व बढ़ोतरी जारी है। उनका दावा है कि भारत की ओर से 1,970 बार संघर्षविराम का उल्लंघन हुआ है।

फैसल ने क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा पर खतरा बताया
फैसल ने कहा कि आम नागरिकों की आबादी वाले इलाकों को जानबूझकर निशाना बनाना निन्दनीय है। यह मानवता, अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार अधिकार और मानवाधिकार कानूनों के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि भारत की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन किए जाने से क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा को भी खतरा है। इसका नतीजा सामरिक भूल साबित हो सकता है।

संघर्षविराम समझौते का सम्मान करने के लिए कहा
फैसल ने भारतीय पक्ष से 2003 के संघर्षविराम समझौते का सम्मान करने के लिए कहा है। इसके अलावा उन्होंने संघर्ष विराम उल्लंघन की इन घटनाओं की जांच करने के साथ-साथ भारत को संघर्षविराम का सम्मान करने का आदेश दिया। उन्होंने नियंत्रण रेखा और सीमा पर शांति बनाए रखने को भी कहा।

हफ्ते में चौथी बार अहलुवालिया को तलब किया गया
पाकिस्तान ने कथित संघर्षविराम उल्लंघन को लेकर एक हफ्ते में चौथी बार अहलुवालिया को तलब किया है। इससे पहले इसे लेकर अहलूवालिया को पाकिस्तान 14, 15 और 16 अगस्त को तलब कर चुका है।

यह भी पढ़ें: जब 121 साल पहले नशे में धुत्त अंग्रेजी अफसर ने पेड़ को कराया गिरफ्तार, आज भी है जंजीरों में कैद

यह भी पढ़ें: इमरान ने दुनिया के सामने कबूला, पाक में 40 हजार आतंकी, कबूलनामे से सेना से भी बढ़ी दूरियां

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान में बाढ़ को लेकर अलर्ट जारी, कहा- भारत ने बिना पूर्व सूचना के नदियों में छोड़ा पानी

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस