इस्‍लामाबाद। कोरोना वायरस पाकिस्‍तान में लगातार कहर बरपा रहा है। शुक्रवार को वहां पर एक ही दिन के अंदर रिकॉर्ड संख्‍या में मरीज बढ़े है। इनकी संख्‍या अब बढ़कर 1363 तक हो गई है। पाकिस्‍तान में इसकी वजह से 11 लोगों की मौत भी हो चुकी है। हालांकि एक अच्‍छी खबर ये भी है कि इस वायरस की चपेट में आए 23 लोग ठीक भी हुए हैं। इस वायरस की चपेट में अब पंजाब सबसे अधिक है। यहां पर इसके कि 490 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं सिंध में 440, खैबरपख्‍तून्‍ख्‍वां में 180 मामले, बलूचिस्‍तान में 133 मामले, गुलाम कश्‍मीर में 93 मामले और इस्‍लामाबाद में 27 मामले सामने आए हैं।

इस बीच पाकिस्‍तान ने पत्रकारों से बात करते हुए कोरोना वायरस से खराब हो रहे हालातों पर चिंता जाहिर की। उन्‍होंने कहा कि पैसों की कमी की वजह से ईरान से लगती सीमा और ताफ्तान में आ रहे श्रद्धालुओं कोबेहतर सुविधा नहीं दे पा रहे हैं। आपको बता दें कि पाकिस्‍तान में काफी संख्‍या में ईरान से आए श्रद्धालु इस वायरस से संक्रमित पाए गए थे। उनके मुताबिक जब वहां पर इसका पहला मामला सामने आया था तब जफर मिर्जा वहां पर गए थे और पीएम को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी। इस रिपोर्ट को देखकर वो चौंक गए थे क्‍योंकि वहां पर जरूरी सुविधाओं की भारी कमी थी। उन्‍होंने ये भी कहा कि फंड की कमी की वजह से बलूचिस्‍तान का भी यही हाल है। उन्‍होंने पत्रकारों से बात करते हुए यहां तक कहा है कि इसको खराब प्रबंधन नहीं कहा जा सकता है बल्कि यहां पर किसी तरह का कोई मैनेजमेंट ही नहीं है जिसकी वजह से भी ये मामले बढ़ रहे हैं।

पत्रकारों से बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि देश में ऐसी कोई व्‍यवस्‍था नहीं है कि लोगों को राहत दी जा सके। इसके लिए उन्‍होंने यूथ टाइगर फोर्स बनाने का फैसला किया है जो घर-घर जाकर इस बुरे वक्‍त में लोगों की मदद करेगी और उन्‍हें खाने की चीजें मुहैया करवाएगी। इसके लिए इच्‍छुक व्‍यक्ति अपना रजिस्‍ट्रेशन 31 मार्च से करवा सकेंगे।

वहीं पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय ने विदेशों से मदद की गुहार लगाते हुए फंड मुहैया करवाने की अपील की है। पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्‍ता आएशा फारुखी ने इस दौरान एक बार फिर कश्‍मीर राग अलापा। उन्‍होंने बताया कि पीएम इमरान खान ने विकासशील देशों को मिले कर्ज पर ब्‍याज की दरों को कम करने की अपील की है। साथ ही ये भी कहा है कि इस महामारी को देखते हुए इसको लंबित कर देना चाहिए। ब्रिटेन और कनाडा के बढ़ते मामलों को देखते हुए पीआईए ने अपनी उड़ानों को यहां के लिए बंद कर दिया है। आपको बता दें कि इस कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बावजूद पाकिस्‍तान में कई जगहों पर पहले की ही तरह नमाज अदा की जा रही है। लेकिन अब जबकि इसके मामले वहां पर इतने बढ़ गए हैं तो इस पर रोक लगाने का फैसला लिया गया है।

ये भी पढ़ें:- 

जानें कब और कहां से शुरू हुई इमरान खान को कोरोना वायरस का टेस्‍ट पॉजीटिव होने की अफवाह

कुछ सेकेंड में चीनी समझ सकेगा रशियन और रशियन समझ सकेगा हिंदी समेत 40 भाषाएं, जानें कैसे 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस