इस्लामाबाद, एएनआइ। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार भ्रष्टाचार को लेकर विपक्षी दलों के निशाने पर है। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के नेता चौधरी कमर जमां कैरा ने इमरान खान पर जमकर हमला बोला है। कमर जमां ने कहा कि इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सरकार ने देश को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया है।

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को मीडिया को संबोधित करते हुए पीपीपी के नेता ने कहा कि जब उनकी पार्टी के लोग भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाते थे, तो पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ झगड़ा के नेता झगड़ा करने लगते थे। उन्होंने कहा कि वैश्विक संस्थाओं ने भी इस बात की पुष्टि कर दी है कि देश में भ्रष्टाचार बढ़ा है। कैरा ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री भ्रष्टाचार से लड़ने के नारे का इस्तेमाल करते रहे हैं, लेकिन हकीकत में उन्होंने देश में व्याप्त भ्रष्ट आचरण को खत्म करने के लिए कुछ नहीं किया।

द न्यूज इंटरनेशनल ने आगे बताया कि पीपीपी नेता ने यह भी कहा कि वैश्विक संस्थाओं के अनुसार देश में कोई शासन और कानून का शासन नहीं है।

पीपीपी नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने भ्रष्टाचार को लेकर झूठे नारे लगाए। उन्होंने कहा कि इमरान खान के सलाहकार शहजाद अकबर को निराशा के कारण बाहर कर दिया गया। कैरा ने कहा कि देश गंभीर आर्थिक संकट से घिरा हुआ है।

पाकिस्तान में बढ़ा भ्रष्टाचार

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के नवीनतम भ्रष्टाचार संवेदन सूचकांक (सीपीआइ 2021) के अनुसार, पाकिस्तान में भ्रष्टाचार बढ़ा है। सूचकांक में पाकिस्तान 28 अंकों के साथ 16 पायदान और नीचे फिसल गया है। वह 124 से 140वें स्थान पर पहुंच गया है। इस लिस्ट में 180 देश शामिल हैं।

Edited By: Manish Negi