इस्लामाबाद, एएनआइ। पाकिस्तान का एक और झूठ फिर से भी के सामने उजागर हो चुका है। हजरतबल मस्जिद (Hazratbal shrine) पर लाखों की संख्या में लोग इकट्ठा हुए। श्रीनगर के हजरतबल पर मिलाद उन नबी के मौके पर श्रद्धालु प्रार्थना करते दिखें। बता दें कि इससे पहले पाकिस्तान की तरफ से गलत जानकारी फैलाई गई थी कि मिलाद उन नबी के मौके पर जम्मू कश्मीर के सभी रास्तों को सील कर दिया है।  

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की तरफ से रविवार को झूठा बयान दिया गया था कि हजरतबल की तरफ जाने वाले सभी रास्तों को मिलाद उन नबी के अवसर पर बंद कर दिया गया है। इसके बाद सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें काफी संख्या में लोग हजरतबल मस्जिद में प्रार्थना करते हुए नजर आ रहे हैं। सभी लोगों ने बड़ी ही धूमधाम से पैगंबर मोहम्मद का जन्मदिन मनाया। 

बता दें कि 5 अगस्त 2019 में जम्मू -कश्मीर से अनुच्छेद 370 निष्प्रभावी होने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। वह लगातार भारत का विरोध कर रहा है। जम्मू कश्मीर में रह लोगों के लिए पहले भी वह काफी झूठी अफवाह फेला चुका है। यही नहीं यूएन में भी वह जम्मू कश्मीर का मुद्दा उठा चुका है, लेकिन सभी जगहों से उसे मुंह की खानी पड़ी है। ऐसे में पाकिस्तान काफी अलग-थलग पड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। वहीं अमेरिका भी इस मुद्दे को भारत और पाकिस्तान का आंतरिक मुद्दा बता चुका है।

पिछले दिनों करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के बाद से कयास लगाए जा रहे हैं कि पाकिस्तान और भारत के रिश्तों में तल्खी कम होगी, लेकिन इस उद्घाटन से पहले भी पाक की तरफ से वीजा को लेकर बायनबाजी हुई। एक तरफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने करतापुर के लिए वीजा न लगने के लिए बात कही वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान के मंत्रियों के तरफ से वीजा लगाने के बयान आए। 

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप