नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म किए जाने के बाद से बौखलाया पाकिस्तान अब भारत के खिलाफ साजिश रचने और झूठ फैलाने में लगा हुआ है। पाक मीडिया की ओर से कभी कश्मीर में गोलीबारी, कभी मुठभेड़, कभी प्रदर्शन जैसी पुरानी तस्वीरें वायरल कर माहौल खराब करने की कोशिश की जा रही है। अब पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर के नाम पर देशों से मदद मांग रहा है। मगर उसको कहीं से कोई मदद नहीं मिल पा रही है, इस वजह से उनकी बौखलाहट और बढ़ती जा रही है। 

पाक ने कश्मीर के मसले पर अमेरिका, चीन, ब्राजील जैसे देशों से मदद मांगी मगर वहां से उनको किसी तरह की कोई मदद नहीं मिल सकी। इस वजह से वो अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए। पहले अमेरिका ने इस मामले में मध्यस्थता की भूमिका निभाने के लिए कहा था मगर बाद में वो एकदम किनारे हो गया। 

भारत के कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने की घोषणा किए जाने के बाद जब पाकिस्तान में इस मामले में मदद की गुहार लगाई तो अमेरिका ने इसे भारत का अंदरूनी मामला बताकर इसमें किसी तरह की भूमिका निभाने से ही मना कर दिया है उसके बाद से पाकिस्तान के हालात और भी खराब हो गए हैं। अब उसका अंतिम आसरा भी खत्म हो गया है। इस वजह से पाकिस्तानी नेता अधिक बौखलाए हुए हैं वो किसी भी स्तर पर जाकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय में भारत को बदनाम करने की साजिश करने में लगे हुए हैं।

वो ये दिखाना चाह रहे हैं कि भारत ने जो काम किया है उससे कश्मीर में हालात बहुत अधिक खराब हो गए हैं।सूत्रों के हवाले से ये भी जानकारी दी जा रही है कि पाकिस्तान के कुछ आतंकी संगठन अब भारत में हमला करने की भी तैयारी कर रहे हैं। वो मानव बम बनकर बड़ा विस्फोट करने की योजना पर काम कर रहे हैं। इसमें स्लीपिंग सेल का भी इस्तेमाल किए जाने की बात कही जा रही है।

पाकिस्तान के 73 वें यौमे आजादी के दिन भी वहां के जियो टीवी की ओर से ऐसी ही खबरें प्रसारित की जाती रही। टीवी के स्टूडियो में बैठे एंकर बताते रहे कि भारत ने पाकिस्तान से लगी सीमा पर कई अस्थायी चौकियां बना ली हैं, उसने वहां पर पाकिस्तान के झंडे लगा दिए हैं और हमला करके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ये दिखाना चाह रहा है कि पाकिस्तान ने भारत की सीमा में फिर से हमला किया है। इससे अंतरराष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान पर शिकंजा कसेगा, भारत को इसमें कामयाबी मिलेगी। 

जियो टीवी के हवाले में बताया गया कि मकबूजा कश्मीर में भारत की ओर से इस तरह की साजिश रची जा रही है। इसी के साथ लोगों से अपील की जाती रही कि वो पाकिस्तान के साथ वहां पर कश्मीर का झंडा भी फहराएं, हर घर में पाक और कश्मीर का झंडा फहराया जाए। पाकिस्तान के राष्ट्रपति डॉ.आरिफ अल्वी ने भी यौमे आजादी पर दिए गए अपने भाषण में कश्मीर की चर्चा की।

उन्होंने मंच से कहा कि पाकिस्तान कश्मीरियों के साथ खड़ा है कश्मीरी अपने को तन्हा ना समझें। पाकिस्तान कश्मीरियों के साथ खड़ा था, खड़ा है और रहेगा। वो अपने को किसी भी तरह से अलग ना समझें। जब कश्मीरियों को किसी तरह की तकलीफ होती है तो उतनी ही तकलीफ पाकिस्तानियों को भी होती है उनका दिल रोता है उनके दिल से आंसू गिरते हैं।

इससे पहले भी पाकिस्तान की ओर से कई तरह की पुरानी तस्वीरें वायरल कर उसे कश्मीर की बताया गया। इस तरह की तस्वीरों में हथियार, कश्मीरियों पर पुलिस की ओर से किए जा रहे लाठीचार्ज जैसी तस्वीरें दिखाई गई। एक दो तस्वीरों में ये दिखाया गया कि वहां पर तैनात पुलिसकर्मी कश्मीरियों पर जुल्म कर रहे हैं। जबकि तस्वीरों की सत्यता जांच करने पर वो काफी पुरानी पाई गई। बताया जा रहा है कि हर तरफ से निराशा हाथ लगने के बाद अब पाकिस्तान इस तरह की हरकतों पर उतर आया है। तमाम तरह की झूठीं खबरें और अफवाह फैलाकर वो भारत को बदनाम करने में लगा हुआ है।  

ये भी पढ़ें:- 

फर्जी फोटो से भारत को बदनाम करने में फंसा पाक, हो सकती है कार्रवाई

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vinay Tiwari