इस्लामाबाद, एजेंसी। पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीएआइ) ने फर्जी डिग्री, गबन और ड्यूटी से गायब रहने के आरोप में पिछले महीने 63 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया। इनमें पांच पायलट शामिल हैं। पीएआइ के प्रवक्ता अब्दुल्ला खान ने बताया कि पांचों बर्खास्त पायलटों के लाइसेंस फर्जी पाए गए थे। 

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की एक रिपोर्ट में खान के हवाले से कहा गया है कि 28 कर्मचारियों की शैक्षणिक डिग्रियां फर्जी पाई गईं, जबकि 27 बिना नोटिस के ड्यूटी से गायब चल रहे थे। दो कर्मचारियों को गबन और एक को अयोग्यता के मामले में सेवा से बाहर किया गया। उल्लेखनीय है कि एयरलाइंस ने पिछले महीने मंत्रिमंडल के आदेश पर 17 पायलटों को बर्खास्त कर दिया था। उनके लाइसेंस संदिग्ध पाए जाने पर यह कार्रवाई की गई थी। गत 22 मार्च को कराची में हुए विमान हादसे की जांच के बाद यह कार्रवाई की गई थी। लाहौर से कराची जाने वाली घरेलू उड़ान कराची में जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास एक रिहायशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसमें 97 लोगों की मौत हो गई थी।

गौरतलब है कि जून में विमानन मंत्री गुलाम सरवर खान ने संसद को बताया था कि देश में 262 पायलटों के पास संदिग्ध लाइसेंस हैं। 22 मई को कराची विमान दुर्घटना में विमानन मंत्री की जांच के बाद पायलटों को बर्खास्त कर दिया गया था। पिछले महीने एयरलाइन ने संघीय कैबिनेट के आदेश पर 17 पायलटों को बर्खास्त कर दिया था। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस