इस्लामाबाद, पीटीआइ। पाकिस्तान के कराची शहर में जहरीली गैस के रिसाव से मौत का सिलसिला दूसरे दिन भी जारी है। मंगलवार को हादसे में मरने वालों की संख्या 11 पहुंच चुकी है। सोमवार को जहरीली गैस के रिसाव से पांच लोगों की मौत हुई थी। इसके अलावा कई अन्य लोगों को गंभीर हालत में आसपास के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। गैस लीक की वजह अब तक स्पष्ट नहीं है।

जहरीली गैस रिसाव से प्रभावित लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। न्यूज एजेंसी पीटीआई ने पाकिस्तान पुलिस के हवाले से जानकारी दी है कि मंगलवार को शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। इसके साथ ही स्थानीय अधिकारियों ने घटना स्थल के पास अलर्ट जारी कर दिया है। यहां लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है।

गैस रिसाव का कारण नहीं हुआ साफ

फिलहाल गैस रिसाव का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। डॉन अखबार के मुताबिक इस घटना में कम से 11 लोगों की मौत हो गई है। जियाउद्दीन अस्पताल (Ziauddin Hospital) प्रवक्ता आमर शहजाद (Amir Shehzad) ने अखबार को बताया कि पिछले दो दिनों में 9 लोग अपनी जिंदगी की जंग हार चुके हैं। पुलिस ने बाद में 2 और लोगों की कुटियाना अस्पताल (Kutiyana Hospital) में मौत की पुष्टि की है।

विभिन्न अस्पताल में भर्ती हैं मरीज

पुलिस ने बताया कि काफी संख्या में लोगों को शहर के विभिन्न अस्पतालों में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। कराची पुलिस चीफ गुलाम नबी मेमन (Ghulam Nabi Memon) ने कहा कि अभी इस घटना के संभावित कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। साथ ही उन्होंने कहा कि सीनियर पुलिस ऑफिसर इस घटना की जांच कर रहे हैं।

जहरीली गैस रिसाव को लेकर पाक अधिकारी भिड़े

इस बीच कराची के कमिश्नर इफ्तिखार शालवानी (Iftikhar Shallwani) ने आशंका जाहिर की है कि जहरीली गैस के रिसाव का हादसा उस वक्त हुआ, जब एक समुद्री जहाज (Ship) से सोयाबीन समेत कुछ अन्य सामान उतारा जा रहा था। वहीं समुद्री मामलों के मंत्री अली जैदी (Ali Zaidi) ने इस आशंका को खारिज किया है। उन्होंने कहा कि गैस रिसाव का यह कारण नहीं हो सकता है, क्योंकि चालक दल और जहाज ठीक हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस