लाहौर, पीटीआइ। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) की मां बेगम शमीम अख्तर (Begum Shamim Akhtar) का रविवार को लंदन में इंतकाल हो गया। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज यानी पीएमएल-एन (Pakistan Muslim League-Nawaz) के सूत्रों ने बताया कि 91 वर्षीय बेगम अख्तर पिछले महीने से बीमार थीं। वह इस साल के फरवरी महीने में लंदन गई थीं। वह लंदन में ही नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) एवं अन्य परिजनों के साथ रह रही थीं। उनको लाहौर में पति की कब्र के बगल में दफ्न किए जाने की संभावना है। 

पीएमएल-एन के उप महासचिव अताउल्लाह तरार (Attaullah Tarar) ने बताया कि नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) की मां बेगम शमीम अख्तर ने रविवार को लंदन में आखिरी सांस ली। बेगम अख्तर के शव को सोमवार को लाहौर लाए जाने और शरीफ परिवार के जति उमरा रायविंड (Jati Umra Raiwind) स्थित आवास में उनके पति मियां शरीफ (Mian Sharif) की कब्र के बगल में दफनाए जाने की उम्मीद है। 

तरार ने यह भी बताया कि नवाज के छोटे भाई और पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ (Shahbaz Sharif) को मां के जनाजे में शामिल होने परोल पर रिहा करने की इजाजत देने की मांग की जाएगी। इसके लिए संबंधित अधिकारियों के सामने आवेदन दाखिल किया जाएगा। मालूम हो कि पीएमएल-एन सुप्रीमो नवाज शरीफ को पाकिस्तान की एक अदालत भगोड़ा घोषित कर चुकी है। ऐसे में मां बेगम शमीम अख्तर (Begum Shamim Akhtar) के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए उनके पाकिस्‍तान आने की उम्मीद नहीं है।

हालांकि पीएमएल-एन के नेताओं की मानें तो नवाज (Nawaz Sharif) शव को लाहौर भेजे जाने से पहले लंदन में ही मां की नमाज-ए-जनाजा में शरीक होंगे। नवाज शरीफ लंदन में निर्वासित जीवन बिताने के साथ ही अपना इलाज भी करा रहे हैं। हाल ही में पाकिस्‍तानी अखबार डॉन ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को लंदन में बीते हफ्ते कई बार अस्पताल जाना पड़ा क्योंकि किडनी में पथरी की वजह से उनको तेज दर्द की शिकायत थी। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस